comScore

तुलना: अब अख्तर ने सचिन को विराट से बेहतर बताया, बोलो तेंदुलकर मौजूदा समय में खेलते तो 1.30 लाख रन बनाते

तुलना: अब अख्तर ने सचिन को विराट से बेहतर बताया, बोलो तेंदुलकर मौजूदा समय में खेलते तो 1.30 लाख रन बनाते

हाईलाइट

  • अख्तर ने कहा, सचिन ने क्रिकेट के अभी तक के सबसे मुश्किल दौर में खेलते हुए बल्लेबाजी के कई रिकॉर्ड बनाए
  • अख्तर ने कहा, सचिन को अगर अब मौका मिलता तो वह 1.30 लाख रन बनाते

डिजिटल डेस्क, लाहौर। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा है कि सचिन तेंदुलकर और भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली की तुलना करना गलत होगा। क्योंकि सचिन ने क्रिकेट के अभी तक के सबसे मुश्किल दौर में खेलते हुए बल्लेबाजी के कई रिकॉर्ड बनाए। कोहली को सचिन का उत्तराधिकारी माना जाता है। उन्होंने अपने आदर्श के कुछ रिकॉर्ड तोड़ भी दिए हैं। अख्तर से पहले हाल ही में भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने भी सचिन को वनडे में विराट से ज्यादा बेहतर बताया था।

अख्तर ने हेलो एप पर बात करते हुए कहा कि, सचिन ने सबसे मुश्किल प्रतिद्वंदियों के सामने खेला है और इसिलए वो अख्तर की नजर में कोहली से आगे हैं। उन्होंने कहा, सचिन ने क्रिकेट के सबसे मुश्किल दौर में बल्लेबाजी की है। अगर उन्हें अब मौका मिलता तो वह 1.30 लाख रन बनाते। इसलिए सचिन और कोहली के बीच तुलना करना सही नहीं होगा। 

2003 विश्व कप में सचिन को शतक पूरा करते हुए देखना चाहता था
अख्तर ने साथ ही बताया कि वह 2003 विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ सचिन को शतक पूरा करते हुए देखना चाहते थे। सचिन उस मैच में 98 रनों पर अख्तर के हाथों ही आउट हुए थे। सेंचुरियन में खेले गए इस मैच में भारत ने पाकिस्तान को हराया था। अख्तर ने कहा, मैं काफी दुखी था क्योंकि सचिन 98 रनों पर आउट हो गए थे। वह स्पशल पारी थी। उन्हें शतक बनाना चाहिए था। मैं चाहता था कि वह शतक पूरा करें, उस बाउंसर पर मैं छक्का देखना पसंद करता जो उन्होंने मुझे पहले मारा था।

सचिन मौजूदा कप्तान विराट कोहली से बेहतर वनडे बल्लेबाज: गंभीर
स्टार स्पोर्ट्स क्रिकेट कनेक्टेड शो में गंभीर ने कहा था, विराट-सचिन में से किसी एक को चुनना मुश्किल है। विराट ने अब तक शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन मैं सचिन का नाम लूंगा। सचिन टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान विराट कोहली से बेहतर वनडे बल्लेबाज हैं। क्योंकि सचिन के समय में वनडे में नियम कुछ अलग थे। लेकिन अब वनडे नियमों में कुछ बदलाव आया है। जिससे कई नए बल्लेबाजों को मदद मिली है। 

सचिन के समय नियम अलग होते थे, आज के समय में क्रिकेट आसान
गंभीर ने कहा, मौजूदा समय में वनडे में दोनों छोर से दो नई गेंदों का इस्तेमाल किया जाता है। जब फिल्डिंग की बात आती है, तो तीनों पॉवरप्ले में इसमें अलग अलग नियम होते हैं। उन्होंने कहा, मौजूदा समय में दो नई गेंद, रिवर्स स्विंग का नहीं होना, फिंगर स्पिन के लिए कुछ नहीं होना, 50 ओवर मैच में पांच फील्डरों का सर्कल के अंदर रहना, आज के समय में क्रिकेट को बल्लेबाजों के लिए आसान बनाता है। वहीं सचिन के समय नियम अलग होते थे। उन दिनों 230-240 रन विनिंग टोटल हुआ करते थे। यही कारण है कि, मैं सचिन तेंदुलकर को चुनूंगा।

सचिन ने वनडे में 49 शतक के साथ 18426 रन बनाए हैं
2013 में क्रिकेट से संन्यास ले चुके सचिन ने भारत के लिए 463 वनडे मैचों में 44.83 के औसत से 18426 रन बनाए हैं। इसमें रिकॉर्ड 49 शतक भी शामिल हैं। वहीं, विराट ने अब तक टीम इंडिया के लिए 248 वनडे में 59.33 के औसत से 11867 रन बनाए हैं। उनके नाम अब तक 43 शतक दर्ज हैं।

कमेंट करें
js8dv