comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

ऑलराउंडर यूसुफ पठान ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से रिटायरमेंट का ऐलान किया, वर्ल्ड कप विनिंग टीम का रह चुके हैं हिस्सा

ऑलराउंडर यूसुफ पठान ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से रिटायरमेंट का ऐलान किया, वर्ल्ड कप विनिंग टीम का रह चुके हैं हिस्सा

हाईलाइट

  • यूसुफ पठान ने किया संन्यास का ऐलान
  • कहा-2 वर्ल्ड कप जीतना करियर की उपलब्धि

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर यूसुफ पठान ने शुक्रवार को खेल के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की। उन्होंने 2007 और 2012 के बीच भारत के लिए 57 वनडे और 22 टी 20 इंटरनेशनल खेले। वह 2007 टी 20 वर्ल्ड कप के साथ-साथ 2011 वनडे वर्ल्ड कप का भी हिस्सा थे। ये दोनों ही वर्ल्ड कप भारतीय टीम ने जीते थे।

सोशल मीडिया पर रिटायरमेंट की घोषणा करते हुए पठान ने लिखा, 'मैं आधिकारिक तौर पर खेल के सभी रूपों से रिटायरमेंट की घोषणा करता हूं। मैं अपने परिवार, दोस्तों, प्रशंसकों, टीम और पूरे देश का समर्थन और प्यार के लिए तहे दिल से शुक्रिया अदा करता हूं। मुझे यकीन है कि आप भविष्य में भी मुझे प्रोत्साहित करना जारी रखेंगे।'

पठान ने लिखा, मुझे याद है जिस दिन मैंने पहली बार भारत की जर्सी पहनी थी। मैंने ही सिर्फ वो जर्सी नहीं पहनी थी, वो जर्सी मेरे परिवार, कोच, दोस्त और पूरे देश ने पहनी थी। मेरा बचपन, जिंदगी क्रिकेट के ही इर्द-गिर्द बीता और मैंने अंतर्राष्ट्रीय, घरेलू और आईपीएल क्रिकेट खेला। लेकिन आज कुछ अलग है।

पठान ने लिखा, आज कोई वर्ल्ड कप या आईपीएल फाइनल नहीं है, लेकिन ये उतना ही अहम दिन है। आज बतौर क्रिकेटर मेरे करियर पर पूर्ण विराम लग रहा है। मैं आधिकारिक तौर पर संन्यास का ऐलान करता हूं।

बता दें कि पठान ने अपने पूरे करियर में घरेलू क्रिकेट बड़ौदा के लिए खेला। आईपीएल में, उन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के साथ कुछ बेहद सफल सीजन किए। उन्होंने आईपीएल में 174 मैच खेले हैं। वह तीन आईपीएल ट्रॉफी जीतने वाले पहले क्रिकेटर है।

मुंबई इंडियंस के खिलाफ आईपीएल 2010 सीजन में यूसुफ पठान का 37 गेंदों में शतक जड़ा था। अभी भी टूर्नामेंट के इतिहास में यह दूसरा सबसे तेज शतक है। पठान ने आखिरी बार 2019 में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए मैच खेला था।

कमेंट करें
MFfby