दैनिक भास्कर हिंदी: बड़ी विपत्ति से निकालते है मां लक्ष्मी के ये 18 पुत्र, ऐसे करें जाप...

August 18th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए अनेक उपाय अपनाए जाते हैं, लेकिन कई बार ये फलदायी सिद्ध नहीं होते। अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में जब कोई उपाय काम ना आए तो उनके 18 पुत्रों का स्मरण करना चाहिए।

अचानक कारोबार में घाटा हो जाये, शेयर बाज़ार में पैसे डूब जायें, अच्छी भली नौकरी चली जाये या फिर कोई प्राकृतिक आपदा आ जाये, ऐसे में धन की आवश्यकता सबको पड़ सकती है। बस ऐसी ही परिस्थिति में लक्ष्मी जी के 18 पुत्रों का नाम शुक्रवार से जपना शुरू कर दें। 

ऋग्वेद में लक्ष्मी पुत्रों के नाम

ऋग्वेद में लक्ष्मी जी के 4 पुत्रों का नाम इस श्लोक में आए हैं
आनंद: कर्दम: श्रीदश्चिकलीत इति विश्रुता:
ऋषय: श्रिय: पुत्राश्व मयि श्रीर्देवी देवता

धन दिलाने वाले पुत्र के नाम

- ॐ देवसखाय नम:
- ॐ चिक्लीताय नम:
- ॐ आनन्दाय नम:
- ॐ कर्दमाय नम:
- ॐ श्रीप्रदाय नम:
- ॐ जातवेदाय नम:
- ॐ अनुरागाय नम:
- ॐ सम्वादाय नम:
- ॐ विजयाय नम:
- ॐ वल्लभाय नम:
- ॐ मदाय नम:
- ॐ हर्षाय नम:
- ॐ बलाय नम:
- ॐ तेजसे नम:
- ॐ दमकाय नम:
- ॐ सलिलाय नम:
- ॐ गुग्गुलाय नम:
- ॐ कुरूण्टकाय नम: