comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Coronavirus: वैष्णों देवी और काशी विश्वनाथ सहित इन मंदिरों में प्रवेश पर लगी रोक

Coronavirus: वैष्णों देवी और काशी विश्वनाथ सहित इन मंदिरों में प्रवेश पर लगी रोक

डि​जिटल डेस्क, नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप देखने को मिल रहा है। वहीं भारत में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इससे बचाव और इसे रोकने के लिए कई राज्यों में स्कूल, कॉलेज, जिम, मॉल, सिनेमा घर तक बंद कर दिए गए हैं। यही नहीं इस वायरस ने भगवान और भक्तों में भी दूरी बना दी है। हाल ही में वैष्णो देवी की यात्रा बंद कर दी गई है। 

इससे पहले काशी विश्वनाथ मंदिर और शिरडी साईं मंदिर बंद कर दिए गए थे। साथ ही कोरोना के कारण काशी के गंगा घाट पर होने वाली विश्व प्रसिद्ध आरती में आम लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। बता दें कि कोराना से बचने के लिए अब तक कई प्रसिद्ध तीर्थस्थल और मंदिरों को बंद कर दिया गया है। आइए जानते हैं इनके बारे में...

कल है पापमोचनी एकादशी, जानें इसका महत्व और पूजा विधि

  • कोरोना के प्रकोप को देखते हुए काशी विश्वनाथ मंदिर स्थित बाबा दरबार के गर्भ गृह में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। सुरक्षा की दृष्टि से यह रोक लगाई गई है।
  • वहीं वैष्णो देवी मंदिर के श्राइन बोर्ड ने भी संक्रमण को रोकने के लिए यहां आने वाले लोगों पर रोक लगा दी। यह रोक 28 दिन के लिए लगाई गई है, जिसमें भारतीय और विदेशी लोगों मंदिर में दर्शन करने की इजाजत नहीं है।
  • कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के ​कारण शिरडी साईं मंदिर के ट्रस्ट ने भी श्रद्धालुओं के लिए प्रवेश पर रोक लगा दी है। ट्रस्ट ने यह फैसला सुरक्षा कारणों को देखते हुए लिया है। इस आदेश को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है।
  • राजस्थान के प्रसिद्ध मेहंदीपुर बालाजी मंदिर में भी अब श्रद्धालु दर्शन नहीं कर पाएंगे। यहां भी सुरक्षा दृष्टि से भक्तों पर फिलहाल रोक लगा दी गई है।
  • उड़ीसा के जगन्नाथ मंदिर में भी श्रद्धालुओं के आने पर रोक लगा दी गई है। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते यहां विशेष प्रकार की नियमावली जारी कर सख्ती से पालन करने को कहा गया है। ऐसे में यहां आने वाले श्रद्धालु भगवान के दर्शन नहीं कर सकेंगे।

चैत्र नवरात्रि में माता की आराधना के साथ करें ये उपाय, समस्याएं होंगी खत्म

  • देश का दिल कहे जाने वाले मप्र में स्थित उज्जैन के महाकाल मंदिर में भी भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। यहां प्रात: होने वाली भस्म आरती के दर्शन पर रोक लगाई गई है। यहां दूर दराज से श्रद्धालु आते हैं, जो अब आरती में शामिल नहीं हो सकेंगे।
  • मध्य प्रदेश के ही दतिया में स्थित पीतांबरा देवी के विश्व विख्यात मंदिर भी कोरोना के प्रकोप से बचाव के लिए मंदिर में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। यहां 5 अप्रैल तक श्रद्धालू देवी के दर्शन नहीं कर सकेंगे।
  • देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई के प्रसिद्ध सिद्धिविनायक मंदिर में भी रोक लगा दी गई है। यहां भक्तों के प्रवेश पर अनिश्चितकाल के लिए रोक लगाई गई है।
  • पुणे में स्थित गणेशजी के दगदूशेठ हलवाई मंदिर में भी पूरी तरह से भक्तों के आने पर रोक लगा दी गई है। यहां 17 मार्च से मंदिर में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है, अगले आदेश तक के लिए यहां श्रद्धालू प्रवेश नहीं कर सकेंगे। 
  • यहां बता दें कि देश के कई जाने माने और प्रसिद्ध ऐसे मंदिर, जहां भक्तों की संख्या काफी अधिक होती है। वहां किसी भी तरह से प्रवेश बंद कर दिया है। वहीं कई मंदिरों में भक्तों को जाने से पहले सेनिटाइजर दिया जा रहा है।  
कमेंट करें
LXKcn
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।