comScore

Coronavirus: वैष्णों देवी और काशी विश्वनाथ सहित इन मंदिरों में प्रवेश पर लगी रोक

Coronavirus: वैष्णों देवी और काशी विश्वनाथ सहित इन मंदिरों में प्रवेश पर लगी रोक

डि​जिटल डेस्क, नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप देखने को मिल रहा है। वहीं भारत में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इससे बचाव और इसे रोकने के लिए कई राज्यों में स्कूल, कॉलेज, जिम, मॉल, सिनेमा घर तक बंद कर दिए गए हैं। यही नहीं इस वायरस ने भगवान और भक्तों में भी दूरी बना दी है। हाल ही में वैष्णो देवी की यात्रा बंद कर दी गई है। 

इससे पहले काशी विश्वनाथ मंदिर और शिरडी साईं मंदिर बंद कर दिए गए थे। साथ ही कोरोना के कारण काशी के गंगा घाट पर होने वाली विश्व प्रसिद्ध आरती में आम लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। बता दें कि कोराना से बचने के लिए अब तक कई प्रसिद्ध तीर्थस्थल और मंदिरों को बंद कर दिया गया है। आइए जानते हैं इनके बारे में...

कल है पापमोचनी एकादशी, जानें इसका महत्व और पूजा विधि

  • कोरोना के प्रकोप को देखते हुए काशी विश्वनाथ मंदिर स्थित बाबा दरबार के गर्भ गृह में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। सुरक्षा की दृष्टि से यह रोक लगाई गई है।
  • वहीं वैष्णो देवी मंदिर के श्राइन बोर्ड ने भी संक्रमण को रोकने के लिए यहां आने वाले लोगों पर रोक लगा दी। यह रोक 28 दिन के लिए लगाई गई है, जिसमें भारतीय और विदेशी लोगों मंदिर में दर्शन करने की इजाजत नहीं है।
  • कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के ​कारण शिरडी साईं मंदिर के ट्रस्ट ने भी श्रद्धालुओं के लिए प्रवेश पर रोक लगा दी है। ट्रस्ट ने यह फैसला सुरक्षा कारणों को देखते हुए लिया है। इस आदेश को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है।
  • राजस्थान के प्रसिद्ध मेहंदीपुर बालाजी मंदिर में भी अब श्रद्धालु दर्शन नहीं कर पाएंगे। यहां भी सुरक्षा दृष्टि से भक्तों पर फिलहाल रोक लगा दी गई है।
  • उड़ीसा के जगन्नाथ मंदिर में भी श्रद्धालुओं के आने पर रोक लगा दी गई है। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते यहां विशेष प्रकार की नियमावली जारी कर सख्ती से पालन करने को कहा गया है। ऐसे में यहां आने वाले श्रद्धालु भगवान के दर्शन नहीं कर सकेंगे।

चैत्र नवरात्रि में माता की आराधना के साथ करें ये उपाय, समस्याएं होंगी खत्म

  • देश का दिल कहे जाने वाले मप्र में स्थित उज्जैन के महाकाल मंदिर में भी भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। यहां प्रात: होने वाली भस्म आरती के दर्शन पर रोक लगाई गई है। यहां दूर दराज से श्रद्धालु आते हैं, जो अब आरती में शामिल नहीं हो सकेंगे।
  • मध्य प्रदेश के ही दतिया में स्थित पीतांबरा देवी के विश्व विख्यात मंदिर भी कोरोना के प्रकोप से बचाव के लिए मंदिर में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। यहां 5 अप्रैल तक श्रद्धालू देवी के दर्शन नहीं कर सकेंगे।
  • देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई के प्रसिद्ध सिद्धिविनायक मंदिर में भी रोक लगा दी गई है। यहां भक्तों के प्रवेश पर अनिश्चितकाल के लिए रोक लगाई गई है।
  • पुणे में स्थित गणेशजी के दगदूशेठ हलवाई मंदिर में भी पूरी तरह से भक्तों के आने पर रोक लगा दी गई है। यहां 17 मार्च से मंदिर में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है, अगले आदेश तक के लिए यहां श्रद्धालू प्रवेश नहीं कर सकेंगे। 
  • यहां बता दें कि देश के कई जाने माने और प्रसिद्ध ऐसे मंदिर, जहां भक्तों की संख्या काफी अधिक होती है। वहां किसी भी तरह से प्रवेश बंद कर दिया है। वहीं कई मंदिरों में भक्तों को जाने से पहले सेनिटाइजर दिया जा रहा है।  
कमेंट करें
yKixe