दैनिक भास्कर हिंदी: भगवान शिव को करना है प्रसन्न तो सोमवार को जरूर करें ये काम

March 12th, 2018


डिजिटल डेस्क । आपने अक्सर अपने बड़े-बुजुर्गों से सुना होगा कि कोई भी परेशानी है, तो भगवान शिव की पूजा करना चाहिए। भगवान शिव को सबसे शक्तिशाली माना जाता है और भगवान शिव के नाम का जप करने मात्र से कई सारी परेशानियों से छुटकारा पाया जा सकता है। चाहे आपको आर्थिक समस्या हो या शारीरिक। भगवान शिव की पूजा करके आप इनको दूर कर सकते हैं। हर सोमवार को भगवान शिव की पूजा-अर्चना करना फलदायी होता है। सोमवार को भगवान शिव की पूजा करने की परंपरा काफी समय पुरानी है। पुरातन काल से ही लोग इस दिन शिव की पूजा करते आए हैं। आज हम आपको बताते हैं कि आखिर सोमवार को ही क्‍यों शिव की पूजा का विशेष महत्‍व है।

- हिंदू धर्मग्रंथों में सोमवार को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है और सोमवार में शिवजी की पूजा करने से वो जल्दी प्रसन्न होते हैं। अगर आप रोज शिवजी की पूजा नहीं कर सकते तो  सिर्फ सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा जरुर करें। 

- अगर आप चाहते हैं कि आपकी सारी मनोकामनाएं पूरी हों, तो इसके लिए सोमवार को व्रत जरूर रखें। सोमवार के दिन शिवजी की पूजा-अर्चना करने के साथ-साथ व्रत रखने से सारी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। 

 

lord shiva के लिए इमेज परिणाम

 

- सोमवार को जो व्रत रखा जाता है, उसे सोमेश्‍वर कहा जाता है।

- सोमेश्‍वर को आप दो तरह से समझ सकते हैं. पहला अर्थ है चंद्रमा और दूसरा होता है वह देव, जिसे सोमदेव भी अपना देव मानते हैं यानी शिव।

- कहा जाता है कि चंद्रमा इसी दिन भगवान शिव की पूजा करते थे जिससे उन्‍हें निरोगी काया मिली। इसलिए भी सोमवार को भगवान शिव की पूजा की जाती है।

- इस दिन भगवान शिव की आराधना का अर्थ है चंद्रदेव को भी प्रसन्‍न करना।

 

 

lord shiva and chandra के लिए इमेज परिणाम

 

- सोमवार को भगवान शिव की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

- पंडित कहते हैं कि अगर हर सोमवार शिवलिंग पर बेलपत्र अर्पित किया जाए तो व्‍यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

- सोम का एक अर्थ सौम्य भी होता है। शंकर जी को शांत देवता कहा जाता है। इसलिए भी सोमवार का दिन इनका दिन माना जाता है। सहज और सरल होने के कारण शिव को भोलेनाथ भी कहा जाता है।

- कुछ लोग ये भी कहते हैं कि सोम में ॐ है और भोलेनाथ को ॐ स्वरूप माना जाता है। इसलिए इन दिन इनकी पूजा करने से विशेष लाभ मिलता है।