दैनिक भास्कर हिंदी: इन जातकों के लिए फायदेमंद होगी रुद्राक्ष की ऐसी माला

February 9th, 2018

 

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भगवान शिव को रुद्राक्ष भी अतिप्रिय है। वासुकी नामक सर्प उनके गले का आभुषण है तो वहीं रुद्राक्ष की माला को भी शिव के गले की शोभा बनने का सौभाग्य प्राप्त है। पुराणों में ऐसा उल्लेख मिलता है कि माता सती को शिव के मिलने रुद्राक्ष ही मिला था। जिसके बाद ही वे शिव से मिली थीं। इसलिए सामान्यतः मनुष्यों को विभिन्न प्रकार के रुद्राक्ष धारण करने की सलाह दी जाती है। ऐसा कहा जाता है कि रुद्राक्ष में शिव के साथ माता पार्वती का भी आशीर्वाद सम्मलित होता है। यहां हम आपको रुद्राक्ष से जुड़ी महत्वपूर्ण बातों के बारे में बताने जा रहे हैं। 

 

-सौभाग्य की प्राति के लिए एवं वृद्धि के लिए रुद्राक्ष की माला एक मुखी तीन मुखी एवं पंच मुखी धारण करना उत्तम होता है। सामान्यतः यह मेष राशि के लिए अधिक भाग्यशाली होगा। 

 

-मान सम्मान में वृद्धि के लिए चार मुखी, छः मुखी रुद्राक्ष धारण करना और इस पर शिव का जाप करना भी अति उत्तम होगा। यह सामान्यतः वृष राशि के जातकों के लिए भी फलदायी होगा। 

 

-नौकरी और व्यापार में तरक्की पाने के लिए तीन मुखीएपांच मुखी रुद्राक्ष धारण करना भी उत्तम बताया गया है। ऐसा करने से महादेव की कृपा आप पर अवश्य होगी और आप एक अच्छी जाॅब प्राप्त कर सकेंगे। 

 

-सामान्य रूप से कोई भी मनुष्य रुद्राक्ष धारण कर सकता है, किंतु विशेषज्ञ के मार्गदर्शन के अनुसार यदि इसे धारण किया जाए तो इसके लाभ निश्चित रूप से प्राप्त होते हैं। 

 

-एक मुखी, तीन मुखी,चार मुखी, तेरह मुखी और पांच मुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए इसे व्यक्ति को धन का लाभ होता है। सिंह, कन्या और तुला राशि के जातकों के लिए ये रुद्राक्ष धारण करना शुभकारी होगा। यह धन के साथ व्यवसाय एवं नौकरी में तरक्की के लिए भी उत्तम बताया गया है। किंतु इसके लिए भी विशेषज्ञ का मार्गदर्शन लेना अावश्यक है।