दैनिक भास्कर हिंदी: VIDEO : जहरीले कोबरा के साथ खेलते हैं बच्चे, यहां लगता है सांपों का मेला

July 27th, 2017

डिजिटल डेस्क, समस्तीपुर। बिहार के समस्तीपुर में हर साल सांपों का मेला लगता है।ये मेला करीब 300 साल से लगता आ रहा है। इस दौरान पहले तो भगवती की आराधना की जाती है और फिर शुरू होता है गंडक नदी से सांपों को निकालने का सिलसिला। लोगों की मान्यता है इस दिन मांगी गई मुराद जरूर पूरी होती है।

सिंधिया घाट गांव समस्तीपुर से करीब 23 किलोमीटर दूर है, जहां के लोग कोबरा जैसे जहरीले सांप को पकड़ कर घरों में रखते हैं। दुनिया के सबसे विषैले और खतरनाक सांप के तौर पर माने जाने वाले कोबरा का नाम सुन कर जहां सामान्य लोग कांप जाते हैं और पसीना छूट जाता है, उन्हीं सांपों के साथ इस गांव के लोग खेलते हैं और उसके साथ करतब दिखाते हैं।

गले में लपेटते हैं सांप
सिंधिया घाट गांव में नागपंचमी के दिन हजारों श्रद्धालुओं ने नागदेव की पूजा अर्चना करते हैं। इसके बाद गांव के पास की नदी में लोगों ने कई सांपों को पकड़ते हैं। गांव के लोगों का कहना है कि यहां रहने वाले सभी लोग सांप पकडऩा जानते हैं। हर घर में सांपों की पूजा होती है।