comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

ग्रेजुएशन रिजल्ट से पहले ही डीयू में शुरू होंगे पोस्ट ग्रेजुएशन के दाखिले

ग्रेजुएशन रिजल्ट से पहले ही डीयू में शुरू होंगे पोस्ट ग्रेजुएशन के दाखिले

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय में 18 नवंबर से पोस्ट ग्रेजुएशन पाठयक्रमों में दाखिला प्रक्रिया शुरू की जा रही है। दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस दाखिला प्रक्रिया के दौरान ऐसे छात्रों को राहत देने का निर्णय लिया है जिनके ग्रेजुएशन का रिजल्ट अभी तक घोषित नहीं हुआ है। ऐसे छात्र भी अब पोस्ट ग्रेजुएशन पाठ्यक्रमों के लिए आवेदन कर सकते हैं।

दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने आधिकारिक जानकारी देते हुए कहा, ग्रेजुएशन के जिन छात्रों का परिणाम जारी नहीं हुआ है, उन्हें भी पोस्ट ग्रेजुएशन में दाखिला लेने में कोई समस्या नहीं होगी। छात्र विश्वविद्यालय की एडमिशन बेवसाइट पर जाकर आवश्यक औपचारिकता पूरी करें। इन छात्रों को फिलहाल प्रोविजनल एडमिशन दिया जाएगा। परिणाम जारी होने तक सीट खाली रखी जाएगी।

दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने दाखिला संबंधी नोटिस जारी किया है। विश्वविद्यालय प्रशासन के मुताबिक, पोस्ट ग्रेजुएशन के 54 पाठ्यक्रमों में दाखिले होंगे। इसमें अर्थशास्त्र, एमएससी, अंग्रेजी, फिलॉसफी, साइकोलॉजी, कंप्यूटर साइंस, उर्दू, भूगोल, बायो कमेस्ट्री, बॉयोफिजिक्स, इन्फार्मेटिक्स, माइक्रोबॉयोलॉजी, एमसीए, बुद्धिस्ट स्टडीज, जीवविज्ञान और पत्रकारिता जैसे विषय शामिल है। पोस्ट ग्रेजुएशन में होने वाले यह दाखिले प्रवेश परीक्षा के आधार पर होंगे। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी इन दाखिलों के लिए परीक्षा आयोजित कराएगी।

दिल्ली विश्वविद्यालय में शैक्षणिक वर्ष 2020-21 के लिए संशोधित पोस्ट ग्रेजुएशन के एंट्रेंस और मेरिट आधारित एडमिशन इस वर्ष दिसंबर तक पूरे किए जा सकेंगे। दिसंबर में दाखिला प्रक्रिया पूरी होने के उपरांत नए सत्र की कक्षाएं प्रारंभ हो सकेंगी। दिल्ली विश्वविद्यालय में पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के लिए पहली मेरिट लिस्ट दीपावली के बाद जारी की जाएगी। एडमिशन लेने के इच्छुक छात्र 18 नवंबर से 20 नवंबर के बीच पहली मेरिट लिस्ट के आधार पर अपने पसंदीदा पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आवेदन कर सकते हैं।

दिल्ली विश्वविद्यालय में अभी तक यह भी तय नहीं है कि दाखिला लेने के बाद कॉलेज खुलेंगे या नहीं। फस्र्ट ईयर के दाखिले के बाद अगर कॉलेज खुलते हैं तो हॉस्टल लेने की प्रक्रिया में भी काफी समय लगेगा। दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हंसराज ने कहा, डीयू द्वारा हॉस्टल नीति स्पष्ट न किए जाने पर दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन (डीटीए) ने चिंता जताई है। टीचर्स एसोसिएशन ने विश्वविद्यालय प्रशासन से मांग की है कि वह कॉलेजों को इस संदर्भ में जल्द ही सकरुलर जारी करे।

दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने कहा, एंट्रेंस बेस्ड पीजी पाठ्यक्रमों के लिए पहली मेरिट लिस्ट दीपावली के बाद जारी की जाएगी और छात्र 23 नवंबर तक एडमिशन फीस भर कर दाखिला ले सकते हैं। दाखिला प्रक्रिया पूरी होने के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय इस वर्ष दिसंबर से पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों के लिए कक्षाएं शुरू कर सकता है। दिल्ली विश्वविद्यालय के मौजूदा शैक्षिक सत्र 2020-21 में दाखिला लेने वाले, दिल्ली से बाहर के छात्र हॉस्टल को लेकर भी चिंतित हैं। ऐसे छात्र लगातार दिल्ली विश्वविद्यालय से पूछ रहे है कि दाखिला के बाद क्या उन्हें हॉस्टल (छात्रावास) की सुविधा मिल सकेगी।

कमेंट करें
BYdEm
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।