दैनिक भास्कर हिंदी: Entrance Exam: जेएनयू, पीएचडी, एमबीए में दाखिले का फॉर्म भरने की तारीखें बढ़ीं

April 30th, 2020

हाईलाइट

  • देश में प्रवेश परीक्षाओं पर भी कोरोना वायरस का असर
  • जेएनयू, पीएचडी में दाखिले का फॉर्म भरने की तारीखें बढ़ीं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए जेएनयू, इग्नू, पीएचडी, होटल मैनेजमेंट समेत कई अन्य प्रवेश परीक्षाओं का फॉर्म भरने की आखिरी तारीख को बढ़ाने का निर्णय लिया है। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने गुरुवार को कहा, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के महानिदेशक को विभिन्न परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन जमा करने की आखिरी तिथि आगे बढ़ाने की सलाह दी गई है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा, इसके अंतर्गत जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय द्वारा ली जाने वाली प्रवेश परीक्षाएं, इग्नू पीएचडी, आईसीएआर परीक्षा, एनसीएचएम जी और प्रबंधन कोर्स की प्रवेश परीक्षाएं शामिल हैं। इन सभी परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन फार्म भरने की अंतिम तिथि आगे बढ़ा दी गई है।

JNU और होटल मैनेजमेंट के लिए 15 मई तक भरें फॉर्म 
राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी यानी एनटीए द्वारा जारी किए गए एक आदेश के मुताबिक, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षाओं के लिए फॉर्म भरने की तारीख 15 मई तक बढ़ा दी गई है। नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट का फॉर्म भरने की तारीख भी 15 मई कर दी गई है।

इग्नू में फॉर्म भरने की तारीख15 मई की गई
इसी तरह इग्नू से पीएचडी और एमबीए का फॉर्म भरने की तारीख दी 30 अप्रैल से बढ़ाकर 15 मई कर दी गई है। इंडियन काउंसिल फॉर एग्रीकल्चरल रिसर्च का फॉर्म भरने की तारीख भी 15 मई की गई है। वहीं, ऑल इंडिया आयुष पोस्ट ग्रेजुएट एंट्रेंस टेस्ट का फॉर्म 5 जून तक भरा जा सकेगा। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सीबीएसई, एनआईओएस और एनटीए को परीक्षाओं के संशोधित कार्यक्रम तैयार करने का भी निर्देश दिया है। इसके साथ ही स्वायत्त निकायों और एनसीईआरटी को वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर तैयार करने को कहा है। मंत्रालय ने यह कदम इसलिए उठाया है, ताकि सभी छात्र इन परीक्षाओं के लिए सरलता और सुलभता के साथ आवेदन कर सकें।

कोरोना के कारण नीट परीक्षाएं भी स्थगित
कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने नीट परीक्षाएं भी स्थगित करने का निर्णय लिया है। नीट परीक्षाओं के लिए एडमिशन कार्ड जारी किए जाने थे, लेकिन यह कार्ड जारी नहीं किए गए और फिर मंत्रालय ने नीट परीक्षाएं स्थगित करने की सूचना जारी कर दी।

स्वास्थ्य मंत्रालय: कोरोना से जंग में पॉजिटिव साइन, मरीजों का रिकवरी और डबलिंग रेट बढ़ा

कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब छात्रों को प्रवेश परीक्षाएं देने के लिए दूसरे शहरों में नहीं जाना पड़ेगा। जी की मुख्य प्रवेश परीक्षा समेत विभिन्न शैक्षणिक कार्यक्रमों की प्रवेश परीक्षा में यह सुविधा प्रदान की जाएगी। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी यानी एनटीए ने इसके लिए आवश्यक प्रावधान किए हैं। जी मैन एनटीए की वेबसाइट पर छात्रों के लिए अपने परीक्षा केंद्र या शहर चुनने का विकल्प जारी कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं...