दैनिक भास्कर हिंदी: थिएटर कल्चर पर बोले हितेश तेजवानी, थिएटर से मिलता है साहस

August 30th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुम्बई। टेलीविजन जगत के जाने-माने अभिनेता हितेन तेजवानी का कहना है कि थिएटर में उनकी कार्यावधि ने एक अच्छा अभिनेता बनने में उनकी मदद की है। मुंबई में बुधवार को मीडिया से बातचीत करने के दौरान हितेन ने कहा कि मैंने अपने करियर की शुरुआत थिएटर में नाटक से की है। मेरे परिवारवाले परेशान थे, क्योंकि मैं ग्रेजुएट था, लेकिन नौकरी नहीं करता था। मैं थिएटर कर अपना पूरा दिन बिता दिया करता था और उस वक्त थिएटर में पैसा नहीं था। फिर भी जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं तो मुझे लगता है कि जो एक्टिंग में रुचि रखते हैं। उन्हें पहले थिएटर में हाथ आजमाना चाहिए। क्योंकि यह आपके आत्मविश्वास को बढ़ाने में आपकी मदद करती है।

हितेन के मुताबिक, यह आपको अभिनय करने का साहस प्रदान करती है। क्योंकि जब आप एक लाइव ऑडिएंस के सामने अभिनय कर सकते हैं। तब आप कैमरे के सामने कुछ भी कर सकते हैं। मुझे लगता है कि थिएटर में मेरी कार्यावधि व्यर्थ नहीं गई। क्योंकि आज कैमरे के सामने अभिनय करना और किरदार के तह तक घुसना मेरे लिए आसान है, इसलिए जो लोग थिएटर करना चाहते हैं। उन्हें हतोत्साहित नहीं किया जाना चाहिए। यह किसी भी कलाकार के लिए एक अच्छी चीज है।

छोटे पर्दे की दुनिया में शामिल होने के अपने निर्णय के बारे में बात करते हुए हितेन ने कहा कि मैं हमेशा से ही एक एक्टर बनना चाहता था, लेकिन मैं फिल्मों में एक्टिंग करना चाहता था, लेकिन जब मैंने टेलीविजन पर वाकई में कुछ अच्छे अवसरों को देखा तो मैंने अपने फोकस को टेलीविलन पर शिफ्ट किया।

अपने आने वाले प्रोजेक्ट्स के बारे में बात करते हुए हितेन ने कहा कि मैं कुछ प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहा हूं, लेकिन मैं उनके बारे में नहीं बता सकता, क्योंकि इन परियोजनाओं के निर्माता जल्द ही इसकी घोषणा करेंगे।

--आईएएनएस

खबरें और भी हैं...