comScore

द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर के डायरेक्टर विजय गुट्टे गिरफ्तार

August 03rd, 2018 14:31 IST
द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर के डायरेक्टर विजय गुट्टे गिरफ्तार

हाईलाइट

  • विजय को जीएसटी इंटेलिजेंस विंग ने मुंबई से हिरासत में लिया है।
  • निर्देशक के तौर पर 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' विजय की पहली फिल्म है।
  • फिल्म मनमोहन सिंह के पूर्व मीडिया सलाहकार संजय बारू की किताब पर आधारित है।

डिजिटल डेस्क, मुंबई। रिलीज से पहले ही विवादों में घिरी फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' के डायरेक्टर विजय गुट्टे को 34 करोड़ के फर्जीवाड़े के मामले में गिरफ्तार किया गया है। विजय को जीएसटी इंटेलिजेंस विंग ने मुंबई से हिरासत में लिया है। गुट्टे पर आरोप है कि होरायजन नाम की कंपनी को उनकी कंपनी वीआरजी डिजिटल ने एनीमेशन और सर्विस के लिए 266 करोड़ रुपए दिए। इस पर फर्जी दस्तावेज देकर 34 करोड़ रुपए जीएसटी क्रेडिट हासिल करने की कोशिश की गई। विजय ने इस कंपनी से कोई सर्विस नहीं ली थी। निर्देशक के तौर पर 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' विजय की पहली फिल्म है। विजय महाराष्ट्र के राजनेता रत्नाकर गुट्टे के बेटे हैं। रत्नाकर पर 5500 करोड़ के बैंक घोटाले का आरोप है। घोटाला सामने आने के बाद विपक्ष ने रत्नाकर को छोटा नीरव मोदी कहकर संबोधित किया था।

यह भी पढ़ें : कारोबारी ने बोगस कंपनियां बनाकर 185 बैंकों को लगाई 5500 करोड़ की चपत


हो सकती है 5 साल की जेल
होरायजन कंपनी के खिलाफ पहले से 170 करोड़ के फर्जी जीएसटी बिल का मामला चल रहा है। क्लाइयंट को फर्जी जीएसटी बिल देकर कंपनी करोड़ों का घोटाला करती थी। गुट्टे के खिलाफ सेक्शन 132(1) (C) के तहत मामला दर्ज हुआ है। नियमों के मुताबिक 5 करोड़ से ज्यादा रकम गलत तरीके से लेने पर दोषी को जुर्माना और 5 साल की सजा होती है। फिल्म मनमोहन सिंह के पूर्व मीडिया सलाहकार संजय बारू की किताब पर आधारित है और 21 दिसंबर को रिलीज होगी। फिल्म में अनुपम खेर मनमोहन सिंह की भूमिका निभा रहे हैं। बारू की भूमिका अक्षय खन्ना और मनमोहन सिंह की पत्नी गुरशरण की भूमिका दिव्या सेठ शाहर निभा रही हैं।

कमेंट करें
EeDdJ
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।