comScore

Fake news: कश्मीरी लड़की को परीक्षा देने जाने से रोकते सैनिकों की फोटो वायरल, जानें क्या है सच

Fake news: कश्मीरी लड़की को परीक्षा देने जाने से रोकते सैनिकों की फोटो वायरल, जानें क्या है सच

डिजिटल डेस्क। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है। इस वायरल फोटो में एक लड़की बस्ता और हाथ में किताब लेकर बैठी रोती हुई दिखाई दे रही है। वहीं फोटो में लड़की के सामने सेना के जवान खड़े हुए हैं। सोशल मीडिया पर इस फोटो को शेयर कर यह दावा किया जा रहा है कि, सेना कश्मीर में इस लड़की को परीक्षा देने जाने से रोक रही है। 

किसने किया शेयर?
कई फेसबुक और ट्विटर यूजर ने इस फोटो को इसी दावे के साथ शेयर किया है कि, कश्मीर में सेना ने लड़की को परीक्षा देने जाने से रोका। 

क्या है सच?
भास्कर हिंदी टीम ने पड़ताल में पाया कि, वायरल फोटो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। किसी न्यूज वेबसाइट पर भी हमें वायरल फोटो या इससे जुड़ी घटना का कोई जिक्र नहीं मिला। इसके बाद हमने वायरल फोटो को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने पर पाया कि, यह फोटो Getty Images की वेबसाइट से ली गई है।

इस वेबसाइट पर फोटो के साथ दी गई जानकारी के अनुसार 18 नवंबर, 2003 को श्रीनगर में आर्मी हैडक्वार्टर के भारतीय सेना और इस्लामिक मिलिटेंट्स के बीच झड़प हुई थी। इसमें एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया था और 6 अन्य घायल हो गए थे। इस घटना के बाद सेना ने इलाके को सुरक्षा के मद्देनजर सील कर दिया था। यह फोटो 19 नवंबर 2003 की है। फोटो में दिख रही लड़की का घर सील किए गए इलाके में ही था। इसलिए सेना के जवानों ने लड़की को परीक्षा देने जाने से रोका था, जिससे कश्मीरी लड़की दुखी थी। 

निष्कर्ष : सोशल मीडिया पर वायरल फोटो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। दरअसल वायरल फोटो 17 साल पुरानी है, जिसे कश्मीर की हाल की घटना का बताकर शेयर की जा रहा है। 

कमेंट करें
X0jK5