comScore

Fake News: क्या जेएनयू छात्र की हुई बेरहमी से पिटाई ?

Fake News: क्या जेएनयू छात्र की हुई बेरहमी से पिटाई ?

डिजिटल डेस्क। जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) के विवाद के बाद सोशल मीडिया पर कई फर्जी खबरे शेयर हो रही है। ऐसे में एक फोटो काफी वायरल हो रही है। जिसमें एक आदमी की पीठ पर गहरे चोट के निशान  दिखाई दे रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि आदमी जेएनयू का छात्र है। जिसे बुरी तरह पीटा गया है। फेसबुक पर इसे Pankaj Chavda ने शेयर किया है। पोस्ट में कैप्शन लिखा है, JNU क्या हाल बना दिया है। जहां बच्चे अपने करियर बनाने हेतु शिक्षा लेने जाते है। मगर तकलीफ यही की JNU के विद्यार्थी सही और गलत समझने लगे है। मनुवादी नीतियों के खिलाफ आवाज उठा रहे है इसलिए इनका ये हाल हो रहा है। मनुवादियों का पालतू टीवी मीडिया सत्य सामने आने नहीं देगा। इनके पोस्ट को तीन हजार से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं।

क्या है सच ?

भास्कर हिंदी टीम ने अपनी पड़ताल में पाया कि किया जा रहा दावा गलत है। पड़ताल में हमें रॉयटर्स का एक आर्टिकल मिला। इस लेख के अनुसार यह तस्वीर श्रीनगर के एक अस्पताल की है। जिसे रॉयटर्स के फोटोग्राफर Cathal McNaughton ने अगस्त 2016 में खींची थी। लेख में लिखा गया है कि आदमी का हाल कश्मीर में तैनात सुरक्षा बल के जवानों की पिटाई से हुआ है। 

यह साफ है कि वायरल फोटो का जेएनयू से कोई लेना-देना नहीं है। तस्वीर तीन साल पुरानी और श्रीनगर की है। 


 

कमेंट करें
p5kbG