दैनिक भास्कर हिंदी: Fake News: JNU के नाम पर दो साल पुरानी तस्वीर वायरल ?

November 25th, 2019

डिजिटल डेस्क। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में होस्टल फीस बढ़ने के बाद छात्रों का विरोध-प्रदर्शन जारी है। इस बीच सोशल मीडिया पर जेएनयू को लेकर कई फर्जी फोटो और वीडियो शेयर किए जा रहे हैं। ऐसे में एक तस्वीर काफी वायरल हो रही है। फोटो में एक महिला हाथ में तख्ती लिए प्रदर्शन में चलती नजर आ रही है। तख्ती पर RSS मुर्दाबाद SFI लिखा हुआ है। दावा किया जा रहा कि यह फोटो जेएनयू में विरोध प्रदर्शन की है।

फेसबुक पर पोस्ट को CA Bipin Singh ने शेयर किया है। पोस्ट में कैप्शन लिखा है, 'ये प्रोटेस्ट तो फीस बढ़ोतरी के विरोध में था, तो फिर ये RSS की तख्ती क्यों? कुछ समझे।' इनके पोस्ट को 200 से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं।

क्या है सच ?
भास्कर हिंदी टीम ने अपनी पड़ताल में पाया कि किया जा रहा दावा गलत है। पड़ताल में एक catchnews की एक खबर मिली, जिसमें यह फोटो थी। यह खबर 14 फरवरी 2017 को प्रकाशित हुई थी। प्रकाशित न्यूज के अनुसार यह फोटो दिल्ली की है जब कुछ छात्रों के एक ग्रुप ने आरएसएस मुख्यालय के बाहर रोहित वेमुला के लिए न्याय की मांग करते हुए प्रदर्शन किया था। इस प्रदर्शन के दौरान पुलिस और छात्रों के बीच झड़प भी हुई थी।

पड़ताल में साफ है कि वायरल हो रही फोटो दो साल पुरानी है। इसका जेएनयू में चल रहे प्रदर्शन से कोई लेना देना नहीं है। बता दें कि जेएनयू में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बाद सोशल मीडिया पर कई फर्जी फोटो और वीडियो शेयर हो रहे है। भास्कर हिंदी टीम ने पहले भी दो फर्जी फोटो की पड़ताल की है। 

पढ़ने के लिए क्लिक करें - Fake News: क्या जेएनयू छात्र की हुई बेरहमी से पिटाई ?
पढ़ने के लिए क्लिक करें- Fake News: जेएनयू में प्रदर्शन, क्या लड़की को पुलिस ने पीटा ?