फैक्ट चैक: राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत का राम शब्द के ‘म’ अक्षर का मतलब मोहम्मद बताने वाला विडियो वायरल, जानें सच

June 9th, 2022

डिजिटल डेस्क, भोपाल। सोशल मीडिया पर इन दिनों एक विडियो वायरल है, जिसमें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कहते हुए नजर आ रहे हैं, राम में ‘म’ का मतलब मोहम्मद है। वीडियो को शेयर करते हुए ये कहा जा रहा है कि, गहलोत मुस्लिम समुदाय की वोटें पाने के लिए ऐसा कह रहे हैं।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर यूजर्स वीडियो को शेयर करते हुए अशोक गहलोत व कांग्रेस पार्टी पर निशाना साध रहे हैं। 


अखण्ड भारत संकल्प नाम के ट्विटर यूजर ने वायरल वीडियो को कांग्रेस मुक्त भारत हैशटैग के साथ साझा किया है।

राजस्थान बीजेपी के सोशल मीडिया प्रमुख अभिषेक आचार्य कुलश्रेष्ठ ने वायरल वीडियो को ट्विटर पर शेयर किया और गहलोत को घटिया मुख्यमंत्री बताते हुए लिखा, गहलोत जी दिन दूर नहीं जब राजस्थान का हर हिन्दू आपको और आपकी पार्टी को हमेशा के लिए गद्दी से उतार देगा।

हिरेन पांडे नाम के यूजर ने भी अभिषेक आचार्य जैसे दावे के साथ विडियो शेयर किया।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर भी वीडियो को वायरल किया गया।

पड़ताल – इस वीडियो के विषय में जानकारी पाने के लिए हमने यूट्यूब पर की-वर्ड्स सर्च किया। इसमें हमें अशोक गहलोत के यूट्यूब चैनल से 28 मई को पोस्ट किया गया एक विडियो मिला। वीडियो के कैप्शन में उस कार्यक्रम का उल्लेख है जिसमें गहलोत सम्मिलित हुए थे। कैप्शन के मुताबिक नागौर जिले के रेण गांव में ब्रह्मलीन आचार्य श्री हरिनारायण जी महाराज के देवल उद्घाटन किया गया। 
सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल है नीचे दिये वीडियो में वो पार्ट 41 मिनट 24 सेकंड से शुरु होता है। वीडियो में अशोक गहलोत बताते हैं राम में जो ‘र’ है उसका मतलब राम होता है और जो म है उसका मतलब मोहम्मद है। ऐसी हिन्दू-मुस्लिम एकता के प्रतीक दरियाव जी महाराज थे। इससे साफ हो जाता है कि गहलोत ने राम के ‘म’ को मोहम्मद बताने वाली बात दरियाव महाराज के हवाले से कही थी।

इसके अलावा हमने दरियाव जी महाराज से संबंधित जानकारी नेट से खोजने की कोशिश की तो हमने पाया कि दरियाव महाराज की किताब ‘दरियाव दिव्य वाणी’ में कई ऐसे दोहे हैं जो हिन्दू-मुस्लिम एकता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से लिखे गए हैं।

इस पड़ताल से साफ हो जाता है कि गहलोत ने दरियाव जी महाराज को कोट करते हुए राम के ‘म’ को मोहम्मद बताया था।