दैनिक भास्कर हिंदी: हयात रीजेंसी कोरोना इलाज में इस्तेमाल किए जाने वाले दिल्ली के 4 प्रमुख होटलों में

June 13th, 2020

हाईलाइट

  • हयात रीजेंसी कोरोना इलाज में इस्तेमाल किए जाने वाले दिल्ली के 4 प्रमुख होटलों में

नई दिल्ली, 13 जून (आईएएनएस)। राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 मरीजों की संख्या 36,000 के पार पहुंचने बाद दिल्ली सरकार ने चार प्रमुख होटलों, पुलमैन, हयात रीजेंसी, वसंत कॉन्टिनेंटल और अंदाज दिल्ली को अधिक मरीजों को रखने के लिए अस्पतालों के साथ अटैच होने का निर्देश दिया है।

दिल्ली सरकार ने आईजीआई एयरपोर्ट के पास स्थित पुलमैन होटल को अपने सभी कमरों को आइसोलेट और उन्हें अपोलो अस्पताल, सरिता विहार के अधिकार में देने के लिए निर्देशित किया है।

वसंत विहार के एसडीएम के आदेशानुसार, होटल अब अटैच अस्पताल के लिए एक विस्तारित अस्पताल होगा। दिल्ली सरकार ने कोविड-19 रोगियों की अधिक संख्या को समायोजित करने के लिए दिल्ली के विभिन्न होटलों के कमरों और बेड को अधिकार में लेकर निकटतम अस्पतालों के साथ होटलों को जोड़ने का निर्णय लिया है।

एक अन्य आदेश में, एसडीएम ने हयात रीजेंसी को 200 कमरों को आइसोलेट करने और फोर्टिस अस्पताल, वसंत कुंज को देने के लिए कहा है।

होटल वसंत कॉन्टिनेंटल को 117 कमरों को आइसोलेट करने और इंडियन स्पाइनल इंजरीज सेंटर हॉस्पिटल, वसंत कुंज के लिए रखने के लिए कहा गया है।

एयरोसिटी में हयात के एक कॉन्सेप्ट अंदाज दिल्ली को सभी कमरों को आइसोलेट करने और अपोलो अस्पताल, सरिता विहार के साथ अटैच करने के लिए कहा गया है।

इससे पहले भी कई होटलों को अस्पतालों के साथ अटैच किया जा चुका है।

यह कोविड-19 रोगियों की अधिक संख्या को समायोजित करने के लिए किया जा रहा है। शुल्क की दरें अस्पताल द्वारा तय की जाएंगी और अस्पताल फिर होटलों को भुगतान करेंगे।

अस्पताल पारस्परिक रूप से दरें तय करने के बाद अपने स्वयं के खर्च पर अपने डॉक्टरों, नर्सों और अन्य पैरामेडिकल स्टाफ को समायोजित कर सकते हैं।

इस आदेश का पालन न करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2006 के तहत दंडात्मक प्रावधान्न के तहत दंडित किया जाएगा। दिल्ली सरकार ने यह निर्धारित किया है।