दैनिक भास्कर हिंदी: मप्र के राजभवन परिसर में 6 कोरोना पॉजिटिव, कर्मचारी परिवारों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध

May 28th, 2020

हाईलाइट

  • मप्र के राजभवन परिसर में 6 कोरोना पॉजिटिव, कर्मचारी परिवारों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध

भोपाल, 28 मई (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश की राजधानी में राज्यपाल निवास राजभवन परिसर में निवासरत कर्मचारी परिवारों के छह लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सख्त कदम उठाए गए हैं। परिसर में निवासरत परिवारों के चिकित्सकीय आपातकाल को छोड़कर तीन दिन तक बाहर निकलने पर प्रतिबंध रहेगा।

राज्यपाल के सचिव मनोहर दुबे ने आधिकारिक तौर पर गुरुवार को बताया, राजभवन परिसर के कर्मचारियों के आवास क्षेत्र को कोविड 19 प्रभावित कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित कर समस्त स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर को सुनिश्चित किया गया है। आगंतुकों के आवागमन, कर्मचारियों के स्वास्थ्य आदि की कड़ी मॉनिटरिंग के लिए दैनिक समीक्षा की व्यवस्था की गई है ताकि परिस्थिति अनुसार व्यवस्थाओं को सुचारू बनाने के कार्य तत्काल किए जा सके।

राज्यपाल के सचिव दुबे ने बताया, राजभवन में कोविड-19 की चुनौती का सामना करने के लिए सभी आवश्यक सावधानियों के पालन को सुनिश्चित किया गया है। राजभवन परिसर में स्थित कर्मचारियों के आवास वाले कंटेनमेंट क्षेत्र एवं शेष क्षेत्रों के लिए वर्गीकृत व्यवस्था की गई है। कार्यालयों के कर्मचारियों को वर्क फ्रम होम के निर्देश दिए गए हैं। परिसर स्थित कार्यालयों को अस्थाई रूप से बंद किया गया है।

ज्ञात हो कि राजभवन परिसर में रहने वाले एक कर्मचारी का बेटा कोरोना पॉजिटिव निकला था, उसके बाद सभी कर्मचारियों के नमूनों की जांच कराई गई, जिसमें पांच अन्य लोगों के नमूने भी पॉजिटिव आए। कुल मिलाकर परिसर में निवासरत छह लोग केारोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

उन्होंने ने बताया कि राजभवन को पृथक क्षेत्र दर्शाने के लिए बैरिकेडिंग कर सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की गई हैं। प्रशासन द्वारा घोषित किए गए कंटेनमेंट क्षेत्र में निर्धारित प्रोटोकाल और स्टैण्डर्ड आपरेटिंग प्रोसीजर का कड़ाई से पालन करवाया जा रहा है। राजभवन परिसर में निवासरत तथा कार्यरत सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की नियमित स्वास्थ्य जांच की जाएगी। राजभवन के इनर जोन में कार्यरत किचिन एवं अटेण्डेंट आदि के स्वास्थ्य की नियमित जानकारी लेकर उनका उत्तम स्वास्थ्य सुनिश्चित किया जायेगा। इनर जोन में प्रवेश करने वाले सभी व्यक्तियों का टेम्परेचर स्केन कर उसका रिकार्ड रखा जायेगा। राजभवन के गेट नंबर एक एवं तीन को पूर्णत: सील किया गया है।

उन्होंने बताया, राजभवन परिसर में निवासरत सभी परिवारों को मेडीकल इमरजेंसी को छोडकर तीन दिवस तक बाहर जाने पर प्रतिबंध रहेगा। सभी वस्तुओं का सेनेटाइजेशन होने के बाद ही राजभवन के गेट नंबर से प्रवेश की अनुमति होगी। परिसर में निवासरत कर्मचारियों से आवश्यकता पड़ने पर कार्य लिया जा सकता है।

सचिव दुबे ने बताया कि राज्यपाल लालजी टंडन के निवास क्षेत्र में बिना अनुमति के किसी भी व्यक्ति का आवागमन नहीं होगा। राज्यपाल की डयूटी में कार्यरत कर्मचारियों को उसी क्षेत्र में ठहराने की व्यवस्था की गई है। सभी कर्मचारियों को कोरोना टेस्ट करवाने के उपरांत स्वस्थ कर्मचारियों को ही इस क्षेत्र में ठहराया गया है।

खबरें और भी हैं...