दैनिक भास्कर हिंदी: धूम्रपान करने वाली महिलाएं हो जाएं सावधान! कोरोना काल में सिगरेट पीना पड़ेगा भारी

August 5th, 2021

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। अगर आप धूम्रपान करने वाली महिला हैं, तो ये खबर आपको जरुर पढ़नी चाहिए। क्योंकि कोरोना काल में सिगरेट पीने की एडिक्ट महिलाओं को सावधान रहने की जरुरत है। दरअसल, कोरोना महामारी के दौरान अगर कोई महिला सिगरेट पीने की आदि है तो, उसे प्री-मैन्स्ट्रूयल सिंड्रोम और प्रजनन से जुड़ी समस्याएं हो सकती है। 2016-17 में भारत में किए गए ग्लोबल एडल्ट टोबैको (Global Adult Tobacco) सर्वे के अनुसार, हर दसवां इंसान धूम्रपान करता पाया गया, जिनमें लगभग 2 फीसदी महिलाएं और 19 फीसदी पुरुषों में धूम्रपान का आंकड़ा देखा गया। 

Smoking During Pregnancy: Consequences and Risks

धूम्रपान से महिलाओं में नुकसान

  • न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन की 2020 में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, जो लोग धूम्रपान करते है उन लोगो के आईसीयू में भर्ती होने की आसार 2 से 4 गुना ज्यादा होते है। जरुरत से ज्यादा धूम्रपान करने वालों की मौत तक हो जाती है। 
  • कोई महिला प्रेग्नेंट है और वो धूम्रपान कर रही है, तो बच्चे के जन्म के समय वजन कम होने की संभावना बढ़ जाती है। इतना ही नहीं सिगरेट पीने से बच्चे के फेफड़े ठीक तरह से विकसित नहीं हो पाते। कुछ बच्चो के होठ फट जाते है।
  • धूम्रपान करने से मिसकैरेज की संभावना अधिक होती है। स्मोकिंग या तंबाकू खाने से मां के दूध में निकोटिन घुल सकता है, जिसके कारण बच्चे में डेथ सिंड्रोम होने के आसार बढ़ सकते है।
  • धूम्रपान करने वाली महिलाओं के मैन्स्ट्रूयल सायकल पर बुरा असर पड़ता है। 
  • धूम्रपान की वस्तु में 7000 से ज्यादा केमिकल मौजूद होते है और जब स्मोकिंग किया जाता है, उस समय ये केमिकल सांस के जरिए शरीर के अंदर आ जाते है और ये केमिकल महिलाओं के रिप्रोडक्टिव सिस्टम को प्रभावित करते है। 

Smoking mothers may alter the DNA of their children | Science | AAAS

 

खबरें और भी हैं...