दैनिक भास्कर हिंदी: Covid-19: सितंबर तक आ सकती है बच्चों की वैक्सीन- एम्स प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया 

July 24th, 2021

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। डॉ. रणदीप गुलेरिया ने बताया कि जाइडस कैडिला का बच्चों पर ट्रायल पूरा हो चुका है। अब उनको आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी की आवश्यकता है। भारत बायोटेक का ट्रायल अगस्त या सितंबर तक पूरा हो जायेगा। उन्होंने बताया कि तीसरी लहर के खतरों को देखते हुए वैक्सीन को तुरंत हरी झंडी दे दी जायेगी।

कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावनाओं के बीच एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि बच्चों की वैक्सीन सितंबर तक आ सकती है। अब तक 42 करोड़ से ज्यादा से लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। सरकार की माने तो 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को साल के अंत तक वैक्सीन लग जायेगी। कोरोना वायरस की दूसरी लहर अभी पूरी तरह से शांत नहीं हुई है, लेकिन तीसरी लहर के बारे अभी से बात होने लगी है। कई विशेषज्ञों ने यह बताया है कि तीसरी लहर बच्चों के लिए खतरनाक हो सकती है। डॉ गुलेरिया के अनुसार बच्चों की वैक्सीन कोरोना चेन को तोड़ सकती है। 

बता दें कि अमेरिका में कोरोना की चेन तोड़ने के लिए फाइजर कंपनी की बच्चों की वैक्सीन को अमेरिकी स्वास्थ एजेंसी फूड एंड ड्रग रेगुलेटर ने मंजूरी दे कर एक अहम फैसला है। अमेरिका में भी बच्चों की वैक्सीनेशन को सितंबर तक शुरू किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...