दैनिक भास्कर हिंदी: अमेरिकी पत्रिका ने नीता अंबानी को 2020 के शीर्ष परोपकारी लोगों में शामिल किया

June 21st, 2020

हाईलाइट

  • अमेरिकी पत्रिका ने नीता अंबानी को 2020 के शीर्ष परोपकारी लोगों में शामिल किया

नई दिल्ली, 21 जून (आईएएनएस)। अमेरिका की प्रतिष्ठित पत्रिका टाउन एंड कंट्री ने कोरोनावायरस महामारी के बीच लोगों की जिंदगियां बचाने में जुटीं नीता अंबानी और रिलायंस फाउंडेशन को 2020 के दुनिया के शीर्ष समाजसेवियों (परोपकारी) की सूची में शामिल किया है।

अंबानी को रिलायंस फाउंडेशन के अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ता (फ्रंटलाइन वर्कर्स), समाज के विभिन्न तबकों के लिए राहत कार्यों, गरीबों को भोजन कराने और देश का पहले कोविड-19 अस्पताल स्थापित करने जैसी समाज सेवाओं के लिए सूची में जगह दी गई है।

वर्ष 2020 के लिए जारी की गई इस सूची में नीता अंबानी भारत से शामिल होने वाली अकेली समाजसेवी हैं। इस सूची में अन्य वैश्विक हस्तियों में टिम कुक, ओपरा विनफ्रे, लॉरेन पॉवेल जॉब्स, लॉडर फैमिली, डोनाटेला वसार्चे, माइकल ब्लूमबर्ग, लियोनाडरे डि कैप्रियो और कई अन्य हस्तियां भी शामिल हैं।

टाउन एंड कंट्री, अमेरिका की प्रमुख लाइफस्टाइल पत्रिका है, जो कि 1846 से सामान्य रुचि (जनरल इंट्रेस्ट) के विषयों में प्रकाशित हो रही है।

पत्रिका ने नीता अंबानी और रिलायंस फाउंडेशन के प्रयासों की जमकर सराहना भी की। पत्रिका ने कहा है कि फाउंडेशन ने लॉकडाउन के दौरान लाखों लोगों को खाना खिलाया है। इसके साथ ही इसकी ओर से आपातकालीन कोष में 7.2 करोड़ डॉलर भी दान किए गए हैं। फाउंडेशन ने भारत का पहला कोविड-19 अस्पताल स्थापित करने में आर्थिक मदद भी की है, जिसके बाद उन्हें समाजसेवी (परोपकारी) लोगों की वैश्विक सूची में जगह दी गई है।

रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने सूची जारी किए जाने के अवसर पर कहा कि संकट हर बार तत्काल ध्यान देने की मांग करता है। संकट के दौरान तत्काल राहत, संसाधन, सरलता और सबसे महत्वपूर्ण करुणा की जरूरत होती है।

उन्होंने कहा कि रिलायंस फाउंडेशन और रिलायंस इंडस्ट्रीज संकट में तत्काल कदम उठाने के लिए पहले से ही तैयार थे। हमें खुशी है कि हमारी पहल और प्रयासों को अंतराष्र्ट्ीय स्तर पर मान्यता दी जा रही है। संकट के दौरान हमारी ओर से किए गए सभी काम हमारी सरकार और समाज की मदद करने की प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं।

नीता अंबानी के नेतृत्व में रिलायंस फाउंडेशन ने संकट की इस घड़ी में स्वास्थ्य और मानवीय संकट को दूर करने के लिए अथक प्रयास किए हैं।