comScore

ग्लोइंग स्किन के लिए तुलसी के पत्तों से बनाएं फेस पैक, जानिए कैसे? 

May 26th, 2021 15:00 IST
ग्लोइंग स्किन के लिए तुलसी के पत्तों से बनाएं फेस पैक, जानिए कैसे? 

डिजिटल डेस्क,दिल्ली। भारत में जड़ी-बूटियों को इस्तेमाल करने की परंपरा सदियों पुरानी है। किसी बीमार व्यक्ति को ठीक करना हो, चेहरे निखारना हो या खाना बनाना हो। हर जगह किसी न किसी तरह हम जड़ी-बूटियों का प्रयोग जरुर करते है। लेकिन भाग-दौड़ भरी जिंदगी में हम अपनी स्कीन का ख्याल रखना भूल जाते है। हमें सिर्फ अपने ऑफिस से घर का एड्रेस मालूम होता है। इसलिए आज हम आपको बताएंगे कि, मशहूर जड़ी-बूटियों में से एक और औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का इस्तेमाल आप अपने चेहरे को निखारने में कैसे कर सकते है। क्योंकि, भारतीय घरों में तुलसी का पौधा होना आम होता है।

तुलसी जहां एक और पूजा के लिए इस्तेमाल की जाती है वहीं विभिन्न पोषक तत्वों से भरपूर भी होती है। पोषक तत्वों से भरपूर औषधीय गुण होने के साथ तुलसी में सौंदर्य निखारने के गुण भी मौजूद होते हैं। यही कारण है कि तुलसी का इस्तेमाल बालों के साथ त्वचा की खूबसूरती बढ़ाने के लिए भी किया जाता है। आपको बस तुलसी की पत्तियों में कुछ घरेलू सामग्रियों को मिलाकर थोड़ा सा फेस पैक बनाकर चेहरे पर लगाना है। चलिए बताते हैं कि, कैसे बनाए ये फेस पैक

ग्लोइंग स्किन और एक्ने की समस्या के लिए बनाएं ये पैक
तुलसी की पत्तियां- 1 कप 
नीम की पत्तियां- 1 कप 
लौंग का तेल-1 चम्मच 
तुलसी और नीम के पत्तों को बताए गए मात्रा के अनुसार ले और उसे धोकर ब्लेंडर में डालकर पेस्ट तैयार कर ले। जब पेस्ट तैयार हो जाएं तो उसमें 1 चम्मच लौंग का तेल डाले। पैक को अच्छी तरह से मिक्स कर ले।आपका पैक तैयार हो चुका है अब बारी आती हैं, इस फेस पर लगाने की। अपने चेहरे को अच्छी तरह से धोते हुए साफ कर ले फिर फेस पैक को अपने चेहरे पर समान रूप से लगाएं और 30 मिनट तक छो़ड़ दे। 30 मिनट बाद अपना चेहरा धोने के लिए ठंडे पानी का प्रयोग करें। इस फेस पैक का इस्तेमाल हफ्ते में दो बार करें मुहांसों की समस्या से छुटकारा मिलेगा। तैलीय त्वचा, मुंहासे, पिंपल्स कुछ ऐसी सामान्य समस्याएं हैं जिनका हम में से कई लोग सामना करते हैं और यह तुलसी और नीम का फेस पैक उन सभी त्वचा संबंधी समस्याओं से निपटने के लिए एक आदर्श समाधान हो सकता है। 

झाइयों और दाग-धब्‍बों के लिए बनाएं ये पैक
संतरे के छिलके या फिर चंदन पाउडर
तुलसी पत्ते
अगर आप बहुत पुराने या नए झाइयों और दाग-धब्‍बों से काफी परेशान हैं तो एक बार आपको इस तरह से फेस पैक बनाकर इस्तेमाल जरुर करना चाहिेए। सबसे पहले संतरे के छिलके का पाउडर बना ले और उसके बाद तुलसी के पत्तें के साथ मिलकार एक बार और पीस ले। आपका पैक तैयार है। आप वैकल्पिक रूप से तुलसी और चंदन पाउडर का भी उपयोग कर सकती हैं। आप चाहें तो इसे 1 चम्‍मच दूध के साथ भी मिक्‍स कर सकती हैं। इसे चेहरे पर हर दिन 5-10 मिनट के लिए लगाएं, ताकि मुंहासे और उनके निशान कम हो सकें। इसके अलावा खून और त्‍वचा को साफ करने के लिए रोजाना तुलसी के 5 पत्ते भी चबा सकती हैं।

कमेंट करें
13ZiE
कमेंट पढ़े
Saroj Priyadarshi May 31st, 2021 17:20 IST

Ye wakai me kaphi achha hai akdam naturally hai aap bhi Ghar pe try kare

NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।