comScore

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत: हिंसा की आग में झुलसा अमेरिका, ट्रंप बोले- प्रदर्शनों से निपटने के लिए उतारेंगे सेना

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत: हिंसा की आग में झुलसा अमेरिका, ट्रंप बोले- प्रदर्शनों से निपटने के लिए उतारेंगे सेना

हाईलाइट

  • अश्वेत अमेरिकी फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में गई जान
  • जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद हिंसा की चपेट में अमेरिका
  • राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सेना को उतारने की दी धमकी

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत के बाद से अमेरिका हिंसा की आग में जल रहा है। कई बड़े शहरों से लूटपाट, दंगे और आगजनी की घटनाओं की खबरें सामने आ रही हैं। हिंसा की लपटें राजधानी वॉशिंगटन डीसी और वाइट हाउस तक पहुंच चुकी हैं। वहीं देश के हालात नियंत्रण से बाहर निकलते देख अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हिंसाग्रस्त इलाकों में हथियारों से लैस सेना के जवानों को उतारने की धमकी दी है।

लोगों और संपत्ति की रक्षा के लिए तैनात करूंगा सेना- ट्रंप
हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए ट्रंप ने अमेरिका में विद्रोह अधिनियम को लागू करने की धमकी दी है। बता दें कि, यह कानून राष्ट्रपति को देश में हो रही घरेलू हिंसा से निपटने के लिए अमेरिकी सेना को भेजने का अधिकार देता है। व्हाइट हाउस के रोज गार्डन से देश को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, अगर कोई शहर या राज्य लोगों की जिंदगी और संपत्ति की रक्षा के लिए आवश्यक कार्रवाई करने से इनकार करता है, तो मैं सेना को तैनात करूंगा और उनकी समस्या का जल्द समाधान करूंगा। उन्होंने कहा, वॉशिंगटन डीसी में कल रात जो हुआ वह बेहद गलत है। मैं हजारों की संख्या में हथियारों से लैस सेना के जवानों को उतार रहा हूं। इनका काम दंगा, आगजनी, लूट और मासूम लोगों पर हमले की घटनाओं पर लगाम लगाना होगा।

सख्ती से लागू किया जाएगा कर्फ्यू
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, आज रात से कर्फ्यू सख्ती से लागू किया जाएगा। राष्ट्रपति के रूप में मेरा पहला और सर्वोच्च कर्तव्य हमारे देश और अमेरिकी लोगों की रक्षा करना है। मैंने अपने राष्ट्र के कानूनों को बनाए रखने की शपथ ली है और मैं यही करूंगा। किसी भी नियम को तोड़ने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा, हिरासत में लिया जाएगा और कानून के तहत मुकदमा चलाया जाएगा।

आतंक फैलाने वालों को जेल में गंभीर आपराधिक दंड
ट्रंप ने कहा, आतंक फैलाने वालों को जेल में गंभीर आपराधिक दंड और लंबी सजा का सामना करना पड़ेगा। दंगा, लूटपाट, बर्बरता, हमले और संपत्ति के विनाश को रोकने के लिए हम सभी उपलब्ध संघीय संसाधनों और सेना को जुटाएंगे और कानून का पालन करने वाले अमेरिकियों के अधिकारों की रक्षा करेंगे। उन्होंने कहा, हम उन दंगों और अराजकता को समाप्त कर रहे हैं जो पूरे देश में फैले हुए हैं। गौरतलब है कि अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पूरे अमेरिका में प्रदर्शन हो रहे हैं।

कमेंट करें
rGBJm