कंबोडिया : आसियान का 55वां विदेश मंत्रियों का सम्मेलन कंबोडिया में आयोजित

August 4th, 2022

हाईलाइट

  • जलवायु परिवर्तन और पर्यावरणीय क्षति

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। 3 अगस्त को आसियान का 55वां विदेश मंत्रियों का सम्मेलन आधिकारिक तौर पर कंबोडिया की राजधानी नोम पेन्ह में आयोजित हुआ। कंबोडियाई प्रधानमंत्री हुन सेन ने उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता की और विभिन्न देशों के विदेश मंत्रियों व आसियान महासचिव से शिष्टाचार भेंट की।

उद्घाटन समारोह में हुन सेन ने दो पहल पेश किये। पहला, जलवायु परिवर्तन और पर्यावरणीय क्षति से क्षेत्र और दुनिया के प्रति उत्पन्न अस्तित्व संबंधी खतरों का समाधान किया जाए और धीरे-धीरे इस क्षेत्र को हरित भविष्य में परिवर्तित किया जाए। दूसरा, कोविड-19 महामारी से प्रभावी ढंग से उबरें। आसियान ने व्यापक बहाली की चार रणनीतियों के तहत पहल और योजनाओं को लागू करने पर सहमति जतायी, ताकि अंतर-आसियान बाजार की निहित शक्ति और व्यापक आर्थिक एकीकरण का अधिकतम विकास किया जा सके।

हुन सेन ने जोर देकर कहा कि पिछले 55 वर्षों के सहयोग में आसियान ने आम सहमति और गैर-हस्तक्षेप के सिद्धांतों के आधार पर ठोस उपलब्धियां हासिल की हैं। उन्होंने कहा कि कंबोडिया टकराव के बजाय एकजुटता और सहयोग पर जोर देता है और शांति को पहले स्थान पर रखना चाहिए। इस वर्ष आसियान के सिलसिलेवार सम्मेलनों की थीम है आसियान: एक साथ चुनौतियों का सामना करें। आसियान देशों के विदेश मंत्रियों ने क्षेत्रीय सहयोग को मजबूत करने और गर्म मुद्दों पर विचार-विमर्श किया।

उसी दिन दोपहर को आसियान देशों के विदेश मंत्री और आसियान महासचिव डेनमार्क, ग्रीस समेत देशों के दक्षिण पूर्व एशिया के साथ मैत्रीपूर्ण सहयोग की संधि पर हस्ताक्षर के गवाह बने और वे 2021 आसियान पुरस्कार समारोह में भी भाग लेंगे। इसके अलावा, कंबोडिया और आसियान सचिवालय तीन आसियान वार्ता साझेदारों यानि नॉर्वे, तुर्की और स्विट्जरलैंड के साथ तीन बैठकें करेंगे। बता दें कि चीनी विदेश मंत्री वांग यी अब कंबोडिया में इस सम्मेलन में भाग ले रहे हैं।

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.