पाक विदेश मंत्री : चीनी नागरिकों पर हमला मेरे परिवार पर हमले की तरह है

May 15th, 2022

हाईलाइट

  • वैन को निशाना बनाकर किए गए बम विस्फोट

डिजिटल डेस्क, कराची। पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा है कि कराची विश्वविद्यालय में चीनी शिक्षकों पर हमले को परिवार पर हमला माना जाएगा। समा टीवी की एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। बिलावल ने पिछले महीने कराची विश्वविद्यालय के कन्फ्यूशियस इंस्टीट्यूट में आत्मघाती हमले में मारे गए चीनी शिक्षकों के लिए आयोजित शोक संदेश को संबोधित करते हुए यह टिप्पणी की।

एक महिला आत्मघाती हमलावर द्वारा चीनी शिक्षकों को ले जा रही वैन को निशाना बनाकर किए गए बम विस्फोट में संस्थान के निदेशक समेत तीन चीनी नागरिकों की मौत हो गई थी। हमले में कुल चार लोगों ने जान चली गई थी।

बिलावल भुट्टो जरदारी ने मारे गए चीनी शिक्षकों की तुलना अपनी बहनों असीफा और बख्तावर से की। उन्होंने कहा, मैं पाकिस्तानी लोगों को बताना चाहूंगा कि चीन, जो पाकिस्तानियों को चीनी भाषा सिखा रही थीं, का जन्म 1994 में हुआ था। मेरी बहन, असीफा का जन्म 1993 में हुआ था। डिंग, जो यहां पढ़ा रहीं थीं, का जन्म 1990 में हुआ था। मेरी बहन बख्तावर का जन्म 1990 में हुआ था।

जरदारी ने कहा, इस बारे में सोचें, ये लोग यहां कमाने के लिए हमारे लोगों को पढ़ाने के लिए हमारे लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए यहां आए थे। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि यह हमला सिर्फ इन लोगों पर ही नहीं, बल्कि पाकिस्तान-चीन की दोस्ती पर भी हमला है। समा टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, विदेश मंत्री ने आगे कहा, अब यह हर पाकिस्तानी की जिम्मेदारी है कि हम इस मुद्दे को ऐसे आगे बढ़ाएं जैसे कि हमारे अपने भाइयों और बहनों पर हमला किया गया हो।

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.