चीन : वुहान की पत्रकार को हिरासत में लेना दूसरों के लिए चेतावनी

November 18th, 2021

हाईलाइट

  • उत्पीड़न के विरोध में एक साल से अधिक समय से भूख हड़ताल पर हैं

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। चीनी पत्रकार झांग झान को वुहान में कोविड महामारी पर रिपोर्ट करने के बाद जेल में बंद करने का इरादा दूसरों के लिए एक चेतावनी के तौर पर है।

द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार, चीनी महिला पत्रकार झान के पूर्व वकील ने यह बात कही है।

सैकड़ों चीनी मानवाधिकार वकीलों और नागरिकों ने झांग झान के लिए तत्काल चिकित्सा देखभाल का आह्वान करते हुए एक खुले पत्र में अपना नाम रखा है, जिन्हें लेकर उनका परिवार को डर है कि वह मौत के करीब है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि झांग 2020 की शुरुआत में वुहान लॉकडाउन पर रिपोटिर्ंग के लिए अपने उत्पीड़न के विरोध में एक साल से अधिक समय से भूख हड़ताल पर हैं।

गुरुवार को उन्हें साहस दिखाने के लिए रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स के 2021 प्रेस फ्रीडम अवॉर्ड से नवाजा गया।

द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार, रेन क्वानियू, जिनका कानूनी लाइसेंस झांग और हांगकांग 12 के सदस्यों का प्रतिनिधित्व करने के बाद रद्द कर दिया गया था, ने कहा कि यह संभव है कि झांग की कड़ी सजा वुहान के प्रकोप को कवर करने की कोशिश कर रहे नागरिक पत्रकारों के खिलाफ एक प्रतिशोध है, जिसका उद्देश्य दूसरों को एक संदेश भेजना है। उनकी शुरुआती गिरफ्तारी को अंतर्राष्ट्रीय मीडिया ने व्यापक रूप से कवर किया था।

उन्होंने कहा, वायरस का मुद्दा वास्तव में बहुत संवेदनशील है, जिसमें यह भी शामिल है कि यह कहां से आया है और वुहान में क्या स्थिति है।

रेन ने आगे कहा, वह कुछ ऑन-साइट साक्षात्कार करने के लिए वहां गई थी और साक्षात्कार के लिए रेडियो फ्री एशिया और एपोच टाइम्स के संपर्क में थीं। दोनों को चीनी अधिकारियों द्वारा शत्रुतापूर्ण मीडिया के रूप में देखा जाता है।

रेन ने कहा कि यह सजा पत्रकारिता, जनमत और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर चीन के सख्त नियंत्रण की अभिव्यक्ति भी है।

रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने कहा, कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप नागरिक पत्रकार या स्वतंत्र मीडिया हैं, जो चीजें तथाकथित संवेदनशील हैं और प्रचार की क्षमता के अनुरूप नहीं हैं, उन्हें कहने की अनुमति नहीं है। यदि आप इन चीजों को सार्वजनिक करते हैं, तो आपको इसी तरह के परिणाम मिल सकते हैं जैसे झांग झान को मिले। यह दूसरों के लिए एक चेतावनी है।

बीबीसी ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया, इससे पहले, अमेरिकी विदेश विभाग ने चीन से नागरिक पत्रकार झांग झान को रिहा करने का आग्रह किया था, जिसमें उनके बिगड़ते स्वास्थ्य पर गहरी चिंता व्यक्त की गई थी।

महामारी शुरू होने पर वुहान में कोविड-19 के प्रकोप की रिपोटिर्ंग पर उन्हें चार साल की जेल की सजा दी गई थी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि झांग पिछले साल मई में हिरासत में लिए जाने के बाद से रुक-रुक कर भूख हड़ताल पर हैं।

अमेरिका का यह कदम उन खबरों के बाद आया है, जिसमें कहा गया था कि वह खतरनाक रूप से मौत के करीब है।

अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने संवाददाताओं से कहा, हमने उनकी हिरासत की मनमानी प्रकृति और इस दौरान उनके साथ दुर्व्यवहार के बारे में बार-बार अपनी गंभीर चिंता व्यक्त की है।

उन्होंने झांग को राहत देने की मांग करते हुए कहा, हम पीआरसी को उनकी तत्काल और बिना शर्त रिहाई के लिए अपना आह्वान दोहराते हैं।

 

(आईएएनएस)