comScore

दुनिया की सबसे युवा प्रधानमंत्री चुनी गईं सना मरीन, उम्र केवल 34 वर्ष


हाईलाइट

  • फिनलैंड की 34 वर्षीय नेता सना मरीन देश की सबसे कम उम्र की प्रधानमंत्री बनने जा रही है
  • सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने एंटनी रिने के पीएम पद से इस्तीफे के बाद नया प्रधानमंत्री चुना है
  • यूक्रेन के प्रधानमंत्री ओलेक्सी होन्चेरुक 35 साल के हैं

डिजिटल डेस्क, हेलसिंकी। फिनलैंड की 34 वर्षीय नेता सना मरीन देश की सबसे कम उम्र की प्रधानमंत्री बनने जा रही है। परिवहन मंत्री मरीन को उनकी सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने एंटनी रिने के पीएम पद से इस्तीफे के बाद नया प्रधानमंत्री चुना है। वह इस सप्ताह में शपथ लेंगी। एंटनी रिने ने एक पोस्टल स्ट्राइक से निपटने में नाकाम रहने के बाद गठबंधन के सदस्यों का विश्वास खो दिया। इसके बाद उन्हें अपना पद छोड़ना पड़ा।

सना मरीन जब कार्यभार संभालेगी, तो वह दुनिया की सबसे कम उम्र की प्रधानमंत्री बन जाएंगी। उनकी उम्र 34 साल हैं। न्यूजीलैंड के पीएम जैकिंडा अर्डर्न 39 वर्ष की हैं, जबकि यूक्रेनी प्रमुख ओलेक्सी होन्चेरुक 35 वर्ष के हैं। प्रधानमंत्री पद के लिए चुने जाने के बाद मरीन ने कहा कि 'मैंने अपनी उम्र या लिंग के बारे में कभी नहीं सोचा। मुझे लगता है कि मैं राजनीति में आने के कारणों और उन चीजों के बारे में सोचती हूं, जिनके लिए हमने मतदाताओं का विश्वास जीता है।'

मरीन ने टैम्परे विश्वविद्यालय से प्रशासनिक विज्ञान में मास्टर डिग्री ली है। वे 27 की उम्र में टैम्परे की नगर परिषद की प्रमुख चुनी गई थीं। वे जून 2019 में परिवहन और संचार मंत्री बनाई गई थीं। रायटर के अनुसार, सोशल डेमोक्रेट पांच-सदस्यीय गवर्निंग कोलेशन में सबसे बड़ी पार्टी है। पार्टी के संसदीय समूह के प्रमुख एंट्टी लिंडमैन को पछाड़ने के बाद मरिन ने शीर्ष स्थान हासिल किया।

फिनलैंड की संसद की पांच प्रमुख पार्टियां अब सभी महिलाओं के नेतृत्व में हैं, जिनमें से चार 30 के दशक में हैं: 32 वर्षीय ली एंडरसन वाम गठबंधन की नेता हैं; 34 वर्षीय मारिया ओहिसालो, ग्रीन लीग का नेतृत्व करती हैं; सेंटर पार्टी का नेतृत्व 32 वर्षीय कटरी कुलमुनि कर रही है; और 55 वर्षीय अन्ना-माजा हेनरिक्सन, फिनलैंड की स्वीडिश पीपुल्स पार्टी की नेता हैं।

कमेंट करें
6ft1A