दैनिक भास्कर हिंदी: G-20: मोदी का एजेंडा, करोड़ों हड़पकर भागने वालों पर कसेगा शिकंजा

December 1st, 2018

हाईलाइट

  • आर्थिक अपराधियों पर लगाम लगाने की तैयारी में मोदी सरकार
  • ऐसे अपराधियों की संपत्तियों की होनी चाहिए पहचान: मोदी
  • प्रत्यर्पण प्रणाली की खामी और सहायता के अनुभव भी साझा किए

डिजिटल डेस्क, ब्यूनस आयर्स। बैंकों को हजारों करोड़ का चूना लगाकर विदेश भागने वाले आर्थिक अपराधियों पर मोदी सरकारर्थिक अपराधियों के खिलाफ कार्रवा ने लगाम कसने की तैयारी शुरू कर दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐसे अपराधियों को कठघरे में खड़ा करने के लिए जी-20 देशों के साथ पहल की है। जी-20 देशों के सामने प्रधानमंत्री मोदी ने एक 9 सूत्रीय एजेंडा पेश किया और भगोड़े आई करने के लिए सहयोग मांगा। 


पीएम मोदी ने कहा कि भारी-भरकम कर्ज लेकर देश से फरार हो जाने वाले अपराधियों की संपत्तियों की पहचान करने पर विचार किया जाना चाहिए। ऐसे लोग दूसरे देशों में पनाह लेकर बचने की कोशिश करते हैं। जी-20 देशों को कानूनी प्रक्रियाओं में सहयोग कर अपराधियों की संपत्ति जब्त करने और उनके प्रत्यर्पण में सहयोग करने का प्रयास करना चाहिए। 

 

पीएम मोदी ने कहा कि भगोड़े आर्थिक अपराधियों की परिभाषा तय करने का काम फाइनेंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) को दिया जाना चाहिए। उन्होंने भारत की प्रत्यर्पण प्रणाली में खामी, प्रत्यर्पण के सफल मामलों और कानूनी सहायता के अनुभव साझा करने के लिए एक ज्वाइंट प्लेटफॉर्म बनाने की वकालत की।

खबरें और भी हैं...