श्रीलंका : श्रीलंका में ईंधन की कमी के कारण बंद सरकारी व निजी स्कूल फिर से खुले

July 25th, 2022

हाईलाइट

  • स्कूल संचालन की पहली अवधि 7 सितंबर

डिजिटल डेस्क, कोलंबो। श्रीलंका में सोमवार को सरकार के स्वामित्व वाले सार्वजनिक और सरकार द्वारा अनुमोदित निजी स्कूलों को फिर से खोल दिया गया। ये स्कूल मौजूदा आर्थिक संकट के मद्देनजर ईंधन की कमी के कारण करीब एक महीने से बंद थे।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, फिलहाल स्कूल सप्ताह में केवल तीन दिन सोमवार, मंगलवार और गुरुवार को खुले रहेंगे और छात्रों को सप्ताह के अन्य दो दिनों में ऑनलाइन पढ़ाया जाएगा। शिक्षा मंत्रालय ने भी स्कूल संचालन की पहली अवधि 7 सितंबर तक बढ़ा दी।

स्कूल पहले कार्यकाल के अंत में परीक्षा आयोजित नहीं करेंगे और प्राचार्यो को मूल्यांकन के वैकल्पिक रूपों का संचालन करने का निर्देश दिया गया है। राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ने अधिकारियों को सभी सरकारी ईंधन डिपो से स्कूल बसों को ईंधन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

श्रीलंका में करीब 40,000 वाहन छात्रों को स्कूलों तक पहुंचाने में लगे हुए हैं। ईंधन संकट के कारण सड़कों पर वाहनों का चलना लगभग ठप हो गया था और कई लोग परिवहन के साधन के रूप में साइकिल का उपयोग करने का विकल्प चुन रहे हैं।

श्रीलंका ईंधन के लिए मुख्य रूप से इस साल जनवरी से दी गई 3.5 अरब डॉलर की वित्तीय सहायता के तहत भारत द्वारा जारी क्रेडिट लाइन पर निर्भर था और 16 जून को प्राप्त 40,000 मीट्रिक टन डीजल की अंतिम शिपमेंट के साथ आपूर्ति समाप्त हो गई थी।

 

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

खबरें और भी हैं...