comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

#MinoritiesInDangerInPak: पाकिस्तान में हिंदू लड़की का मंडप से अपहरण, मुस्लिम लड़के से कराई शादी

#MinoritiesInDangerInPak: पाकिस्तान में हिंदू लड़की का मंडप से अपहरण, मुस्लिम लड़के से कराई शादी

हाईलाइट

  • पाकिस्तान में हिंदू युवती का धर्म परिवर्तन
  • विवाह समारोह से युवती का किया अपहरण

डिजिटल डेस्क, कराची। पाकिस्तान में हिंदू समुदाय पर अत्याचार लगातार बढ़ता जा रहा है। अब सिंध प्रांत में शादी के मंडप से हिंदू लड़की का अपहरण का मामला सामने आया है। जहां युवती की जबरन शादी मुस्लिम युवक से कराई गई। लड़की के पिता का कहना है कि शादी समारोह से उनकी बेटी का अपहरण हुआ और जबरदस्ती मुस्लिम शख्स से शादी कराई गई। मामला कराची से 215 किलोमीटर दूर मटियारी के हाला शहर का है। 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हिंदू लड़की भारती बाई 24 वर्षीय का विवाह हाला शहर के एक हिंदू लड़के से होना था। रविवार को शादी समारोह के दौरान कुछ अज्ञात हमलावरों ने कार्यक्रम स्थल से लड़की का अपहरण कर लिया। भारती के पिता किशोर दास का कहना है कि शाहरुख गुल नाम का एक लड़का कुछ लोगों के साथ आया और उनकी बेटी को ले गया। पिता ने आरोप लगाया कि शाहरुख का साथ पुलिसवालों ने भी दिया है।  

Coronavirus: इस चटोरी महिला ने फैलाया कोरोना वायरस! भूख लगने पर पिया था चमगादड़ का सूप

अल्पसंख्यक समुदायों की लड़कियों के जबरन धर्मातरण के खिलाफ रविवार को कराची प्रेस क्लब के सामने एक बड़ा विरोध प्रदर्शन देखने को मिला। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि पुलिस आरोपियों को पकड़ने के बजाए प्रदर्शन करने वाले हिंदुओं को ही राष्ट्र विरोध गतिविधियों के झूठे आरोप लगाकर गिरफ्तार कर रही है। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया है कि जबरन धर्म परिवर्तन की सबसे हालिया घटना 15 साल की हिंदू लड़की महक कुमारी की है, जो 16 जनवरी को लापता हो गई थी। महक जैकोबाबाद की रहने वाली है। एक प्रदर्शनकारी ने कहा, उसके परिवार का कहना है कि एक मुस्लिम समुदाय के प्रभावशाली व्यक्ति ने उसका अपहरण कर कर धर्मांतरण करा दिया है। उसे शिकारपुर के दरगाह अमरोत शरीफ में इस्लाम धर्म कबूल कराकर उससे निकाह किया गया।

एफएटीएफ: चीन ने दिया समर्थन-अमेरिका मौन, पाकिस्तान ग्रे लिस्ट से हो सकता है बाहर

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पुलिस सिंध बाल विवाह निरोधक कानून के तहत कार्रवाई नहीं कर रही है, क्योंकि इसमें शामिल परिवार गैर-मुस्लिम है। सामाजिक कार्यकर्ता बिरमा जेसरानी ने कहा, दुर्भाग्य से अधिकारियों ने गंभीरता नहीं दिखाई है। अल्पसंख्यकों की नाबालिग लड़की को कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया है। उसका जबरन धर्मातरण कराकर निकाह करा दिया गया है। उन्होंने कहा कि ऐसी हिंदू लड़कियों को ढूंढने और हिंदू समुदाय को सुरक्षा प्रदान करने के बजाए पुलिस ने जैकोबाबाद में हिंदू समुदाय के सदस्यों का ही उत्पीड़न किया है।

Pakistan: सुस्त अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने पाकिस्तान चीन को देगा PoK का कुछ हिस्सा

विरोध प्रदर्शन के आयोजक राज कुमार ने कहा, पुलिस ने धर्म परिवर्तन का विरोध करने वाले चार हिंदू लोगों को राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के झूठे मामले में गिरफ्तार किया है। अब उनके घरों पर छापेमारी करके समुदाय को परेशान किया जा रहा है। प्रदर्शनकारियों ने यह सवाल भी पूछा कि केवल युवा हिंदू लड़कियों को ही इस्लाम अपनाने के लिए प्रेरित क्यों किया जा रहा है और उम्रदराज हिंदू ऐसा (धर्म परिवर्तन) करते हुए क्यों नहीं पाए जाते?

कमेंट करें
1IcPp