दैनिक भास्कर हिंदी: पाकिस्तान का डबल गेम अब बर्दाश्त के बाहर : निक्की हेली

January 3rd, 2018

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा पाकिस्तान को दी जाने वाली सैन्य सहायता रोकने और आतंक के मुद्दे पर ढेर सारे आरोप लगाने के बाद अमेरिका-पाकिस्तान के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौरा शुरू हो गया है। मंगलवार को जहां पाक विदेश मंत्री ने ट्रंप की टिप्पणियों पर पलटवार करते हुए उल्टे अमेरिका को ही झूठा करार दिया था। वहीं पाक विदेश मंत्री के इस बयान के बाद संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निकी हेली ने पाकिस्तान को वॉशिंगटन के साथ डबल गेम खेलने वाला देश बताया है।

संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए निक्की हेली ने कहा, 'पाकिस्तान को 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की सैन्य सहायता राशि रोकना अमेरिका का एक सही फैसला है। पाकिस्तान कई वर्षों से हमारे साथ दोहरा खेल खेलता रहा है। ऐसे में उसे सैन्य सहायता देने का कोई मतलब नहीं बनता।' उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान एक ही समय में हमारे साथ काम करता है और उसी समय आतंकवादियों को भी पनाह देता है जो अफगानिस्तान में हमारे सैनिकों पर हमला करते हैं। प्रशासन इस खेल को बर्दाशत नहीं करेगा।'

गौरतलब है कि आतंक के मुद्दे पर पाकिस्तान के झूठ से परेशान होकर अमेरिका ने पाक को बड़ा झटका देते हुए उसे दी जाने वाली 1624 करोड़ की सैन्य सहायता पर रोक लगा दी है। इस फैसले के 1 दिन पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आतंकवादियों को सुरक्षित पनाहगार देने के लिए इस्लामाबाद को लताड़ लगाई थी। उन्होंने पाकिस्तानी सरकार को झूठ और धोखा देने वाली सरकार बताया था। उन्होंने कहा था कि आतंकवादियों को पनाह देकर पाकिस्तान हमेशा से अमेरिकी नेताओं को मूर्ख बनाता रहा है।

ट्रंप की इन टिप्पणियों के बाद पाकिस्तान में अमेरिकी राजदूत डेविड हेल को तलब किया गया। पाक विदेश सचिव तेहमीना जांजुआ ने डेविड हेल से इस मसले पर स्पष्टीकरण मांगा। मंगलवार देर रात पाक विदेश मंत्री  ख्वाजा आसिफ ने इस मामले पर उल्टे अमेरिका को ही झूठा कह दिया। ख्वाजा आसिफ ने मंगलवार शाम एक ट्वीट कर डोनाल्ड ट्रंप को ही चुनौती दी। उन्होंने लिखा, 'अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप ने बताया कि अमेरिका ने पिछले 15 सालों में पाकिस्तान को 33 अरब डॉलर की मदद की है। वह चाहे तो हमारे पैसे से एक ऑडिट फर्म हायर करें और जांच करा लें, साबित हो जाएगा कि कौन झूठा है।'