दैनिक भास्कर हिंदी: फिलिस्तीन का फरेब, हाफिज सईद के दोस्त राजदूत को फिर पाकिस्तान भेजा

January 7th, 2018

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। फिलिस्तीन ने आतंक के मामले में भारत के साथ फरेब किया है। आतंकी हाफिज सईद के साथ मंच साझा करने वाले राजदूत को फिलिस्तीन ने फिर से पाकिस्तान भेज दिया है। हाफिज सईद मुंबई हमले का मास्टरमाइंड है। इससे पहले पाक में फिलिस्तीनी राजदूत वालिद अबु अली एक रैली के दौरान हाफिज सईद के साथ एक ही मंच पर साथ नजर आए थे। इसके बाद मामले में भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया जताई थी। इसके परिणाम स्वरूप फिलिस्तीन ने खेद जताते हुए अपने राजदूत को वापस फिलिस्तीन बुला लिया था।

पाकिस्तानी स्थानीय मीडिया के अनुसार फिलिस्तीन ने वापस बुलाए गए राजदूत वालिद अबु अली को दोबारा पाकिस्तान में नियुक्त कर दिया है। पाक मीडिया ने यह खबर पाकिस्तान उलेमा काउंसिल (PUC) के चेयरमैन मौलाना ताहिर अशरफी के हवाले से दी है। मीडिया के अनुसार अशरफी ने कहा है कि फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने अली को दोबारा पाकिस्तान में अपना राजदूत नियुक्त कर दिया है। उनके अनुसार फिलिस्तीनी राजदूत अबु अली बुधवार को पाकिस्तान लौट आएंगे और अपना कार्यभार दोबारा संभाल लेंगे।

भारत की कड़ी प्रतिक्रिया जताने के बाद भी फिलिस्तीन ने वालिद अबु अली को दोबारा से पाकिस्तान में नियुक्त क्यों किया है। इस बात का अभी कोई स्पष्टीकरण सामने नहीं आया है। इस पूरे मामले में अभी फिलिस्तीन सरकार का पक्ष आना अभी बाकी है। फिलहाल यह जो पूरी खबर पाकिस्तान मीडिया ने PUC के चेयरमैन मौलाना ताहिर अशरफी के हवाले से दी है।

गौरतलब है कि भारत की आपत्ति को फिलिस्तीन ने गंभीरता से लिया था। भारत में फिलिस्तीन के राजदूत अदनान अबु अल हजा ने कहा था, 'हमारा देश भारत के साथ अपने रिश्ते को काफी महत्व देता है और आतंक के खिलाफ उसकी लड़ाई में साथ खड़ा है।' फिलिस्तीन के पाकिस्तानी राजदूत ने प्रतिबंधित संगठन जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज सईद के साथ रावलपिंडी की एक रैली में मंच साझा किया था।

भारत के विदेश मंत्रालय ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए फिलिस्तीन सरकार से कहा था कि इसे किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जा सकता। इस रैली की तस्वीरें सामने आने के बाद भारत की ओर से फिलिस्तीन को कड़ा संदेश दिया गया था। खास बात यह है कि घटनाक्रम ऐसे समय में हुआ, जब भारत के उच्च अधिकारी पीएम मोदी के फिलिस्तीन दौरे की तैयारियों में जुटे हैं। पीएम फरवरी में फिलिस्तीन की यात्रा पर जा सकते हैं।

फिलिस्तीन ने भारत में दी थी सफाई
भारत में फिलिस्तीन के राजदूत ने सफाई देते हुए कहा था, 'हमारे राजदूत इस आदमी (हाफिज सईद) को नहीं जानते थे। जब उसने (हाफिज) बोलना शुरू किया तो राजदूत ने पूछा कि यह कौन है? हमारे राजदूत का भाषण उसके बाद था। हमारे राजदूत ने भाषण दिया और वहां से चले गए।' राजदूत हजा ने कहा कि इसके बावजूद हमारे लिए यह स्वीकार्य नहीं है और इसीलिए राजदूत को वापस बुलाने का फैसला लिया गया।