चीन: शी चिनफिंग के कूटनीतिक विचारों पर संगोष्ठी आयोजित

July 26th, 2022

हाईलाइट

  • महान कार्यों में योगदान

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। शी चिनफिंग के कूटनीतिक विचारों पर संगोष्ठी 24 जुलाई को पेइचिंग में आयोजित हुई, जिसमें चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने भाग लिया और भाषण भी दिया। वांग यी ने जोर देते हुए कहा कि शी चिनफिंग के नये युग में चीनी विशेषता वाले समाजवाद पर विचारों और शी चिनफिंग के कूटनीतिक विचारों के मार्गदर्शन में नए युग में चीनी विशेषता वाली प्रमुख देश की कूटनीति का नया अध्याय जोड़ने की कोशिश की जानी चाहिए।

वांग यी ने आगे कहा कि चीनी विशेषता वाली प्रमुख देश की कूटनीति के मुख्य रचनाकार के रूप में शी चिनफिंग अंतरराष्ट्रीय स्थिति को ध्यान में रखते हुए समय की नब्ज को संभालते हैं और विश्व प्रवृत्ति का नेतृत्व करते हैं। उन्होंने सिलसिलेवार मूल राजनयिक रणनीतियों और प्रमुख विचारों व पहलों को प्रस्तुत किया है। शी चिनफिंग के कूटनीतिक विचार स्थापित किये गये, जिन्होंने नये युग में चीन की कूटनीति के लिए कार्रवाई करने के दिशा-निर्देश दिये हैं, प्रमुख वैश्विक समस्याओं को हल करने के लिए चीनी ज्ञान और चीनी समाधानों का योगदान दिया है, और मानव विकास व प्रगति को बढ़ाने के लिए आम सहमति और संयुक्त शक्ति को जुटाया है। शी चिनफिंग के कूटनीतिक विचारों के मार्गदर्शन में चीनी विशेषता वाली प्रमुख-देश की कूटनीति को चौतरफा तरीके से उन्नत किया गया है, चीनी राष्ट्र का महान पुनरुत्थान के चीनी स्वप्न को साकार करने के लिए अनुकूल वातावरण तैयार किया गया है, और मानव शांति तथा विकास को बढ़ाने के महान कार्यों में योगदान दिया है।

कूटनीतिक मोर्चे पर हमें शी चिनफिंग के कूटनीतिक विचारों का अध्ययन करते हुए उन्हें लागू करना और अपने राजनीतिक रुख को उन्नत करना चाहिए, सैद्धांतिक हथियारों को मजबूत करना जारी रखना चाहिए, राजनयिक अभ्यास का मार्गदर्शन करना और कार्य प्रभावशीलता बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, व्याख्या और प्रचार को मजबूत करना और दुनिया के अर्थ को पूरी तरह से प्रदर्शित करना चाहिए।

बता दें कि यह संगोष्ठी शी चिनफिंग के कूटनीतिक विचारों पर अध्ययन केंद्र और स्टडी टाइम्स अखबार द्वारा सह-आयोजित की गयी।

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.