यूएनजीए में पाक पीएम शहबाज शरीफ के भाषण से खफा हुई तालिबान सरकार, अफगानिस्तान और पाकिस्तान में पड़ी दरार

Taliban government upset with Pakistan PM Shahbaz Sharifs speech at UNGA, rift between Afghanistan and Pakistan
यूएनजीए में पाक पीएम शहबाज शरीफ के भाषण से खफा हुई तालिबान सरकार, अफगानिस्तान और पाकिस्तान में पड़ी दरार
आतंकवाद पर टकराव यूएनजीए में पाक पीएम शहबाज शरीफ के भाषण से खफा हुई तालिबान सरकार, अफगानिस्तान और पाकिस्तान में पड़ी दरार
हाईलाइट
  • शहबाज शरीफ पर तीखे हमले

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पाकिस्तान प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के यूएनजीए में आतंकवाद पर दिए भाषण से अफगानिस्तान की तालिबान सरकार खफा हो गई है। महासभा में शरीफ ने अपने भाषण में अफगानिस्तान पर गंभीर आरोप लगाए है। जिससे तालिबान सरकार भड़क उठी है। इससे पहले शहबाज ने सभा में कश्मीर का राग भी अलापा था। उन्होंने आतंकवाद को लेकर अफगानिस्तान पर वार किया था।  शरीफ ने आतंकवाद के लिए अफगान को जिम्मेदार ठहराया था।बाद में पाक पीएम इस पर सफाई देते हुए नजर आए। 

दोनों पड़ोसी  देशों के नेताओं की तरफ से एक दूसरे के खिलाफ में बयानबाजी तेज हो गई है। इससे पाक और अफगान दोनों देशों में दरार बढ़ती जा रही है।  दोनों देशों के नेता एक दूसरे के खिलाफ खूब बयानबाजी कर रहे है। पाक पीएम ने तालिबान सरकार पर बढ़ती लैंगिक असमानता को लेकर निशाना साधा है।  इसे लेकर अफगानिस्तान के कई नेताओं ने शहबाज शरीफ पर तीखे हमले किए है। 

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने पाकिस्तान पर हमला बोला है। करजई ने कहा कि पाकिस्तान अपने पड़ोसी देश अफगानिस्तान के खिलाफ आतंकवाद को पनाह दे रहा है, और पनपे दे रहा है।  उन्होंने  पाक पर आतंकवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि पाक अफगानिस्तान के लोगों, संस्कृति और विरासत के खिलाफ आतंकवाद का पोषण और इस्तेमाल कर रहा है। 

दोनों के खिलाफ बनी दरार को भारत के पक्ष में देखा जा रहा है। अब सवाल ये उठ रहा है कि  इस दरार से भारत को कितना फायदा हो सकता है। माना जा रहा है कि अफगान और पाक में दरार बनने से तालिबान सरकार कश्मीर मुद्दे पर भारत का समर्थन करते हुए नजर आ सकती है। इससे पहले भी अफगान कश्मीर मुद्दे को भारत और पाक के बीच का द्विपक्षीय मुद्दा बता चुका है। मुसीबत के वक्त अफगानिस्तान को भारत सरकार ने कई मौके पर राहत सामग्री भेजी।

 


 

 

 


 

Created On :   25 Sep 2022 9:17 AM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story