रूस-यूक्रेन युद्ध: क्रीमिया को पश्चिमी देश मान्यता दे, यूक्रेन में इन दो शर्तो पर युद्ध खत्म कर सकता है रूस!

February 28th, 2022

हाईलाइट

  • क्रीमिया पर रूसी संप्रभुता की मान्यता हो
  • यूक्रेन का विसैन्यीकरण होना चाहिए

डिजिटल डेस्क, मॉस्को। रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध को लेकर दुनियाभर के देशों की नजर बनी हुई हैं। पश्चिमी देशों में अमेरिका, ब्रिटेन तथा जर्मनी यूक्रेन की सीधेतौर पर मदद कर रहे हैं। इसी बीच फ्रांससीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने सोमवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से यूक्रेन में नागरिकों पर हो रहे हमलों पर चिंता व्यक्त करते हुए फोन पर बात की।

दोनों राष्ट्राध्यक्षों के बीच करीब 90 मिनट तक बातचीत हुई है। फ्रांसीसी नेता के कार्यालय ने एक बयान में ये जानकारी दी। मैक्रों ने रूसी नेता से यूक्रेन में नागरिकों और नागरिक बुनियादी ढांचे के खिलाफ हमलों को रोकने के लिए जोर दिया। 

मैक्रों के सामने पुतिन ने रखी ये मांग

फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी यूक्रेन में जारी युद्ध को खत्म करने के लिए दो मांगें रखी हैं। रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से कहा कि यूक्रेन समाधान तभी संभव है, जब रूस के सुरक्षा हितों पर विचार किया जाए। पुतिन आगे कहा कि यूक्रेन का विसैन्यीकरण होना चाहिए। इसके अलावा पश्चिमी देश क्रीमिया पर रूसी संप्रभुता पर मान्यता दें तभी यूक्रेन से लड़ाई खत्म की जा सकती है। 

इन मुद्दों पर ही समझौता संभव

रूस ने मैक्रों के साथ पुतिन की बातचीत के बारे में बताया और कहा कि व्लादिमीर पुतिन ने जोर देकर कहा कि यह समझौता तभी संभव है, जब रूस के वैध सुरक्षा हितों को बिना शर्त ध्यान में रखा जाए। पुतिन ने कहा कि जिसमें क्रीमिया पर रूसी संप्रभुता की मान्यता, यूक्रेन का विसैन्यीकरण और नाजी विचारधारा से मुक्ति शामिल है। 

खबरें और भी हैं...