दैनिक भास्कर हिंदी: जूलियन असांजे को 50 सप्ताह के लिए भेजा जेल, ब्रिटेन में चल रहा है रेप केस

May 1st, 2019

हाईलाइट

  • असांजे पर रेप का है आरोप
  • ब्रिटेन पुलिस काफी दिनों से कर रही थी गिरफ्तारी का प्रयास
  • इक्वाडोर के दूतावास में नजरबंद थे असांजे

डिजिटल डेस्क, लंदन। विकिलीक्स के फाउंडर जूलियन असांजे को लंदन कोर्ट ने रेप के आरोप में 50 सप्ताह के लिए जेल भेज दिया है। कोर्ट ने असांजे को जमानत की शर्तों का उल्लंघन करने का दोषी माना है, उनकी 50 सप्ताह की सजा पूरी होने के बाद ही कोर्ट जमानत पर कोई फैसला करेगा। ब्रिटेन पुलिस काफी दिनों से असांजे को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही थी, लेकिन उन्होंने 2012 से इक्वाडोर के दूतावास में शरण ले रखी थी, असांजे पर स्वीडन की महिला से बलात्कार करने का आरोप है। ब्रिटेन पुलिस ने असांजे को इक्वाडोर के दूतावास से गिरफ्तार कर साउथ वार्क क्राउन कोर्ट में पैश किया था।

असांजे पर 2010 में एक स्वीडिश महिला ने यौन उत्पीड़न  का आरोप लगाया था, जिसके बाद स्वीडन ने उनके खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय गिरफ्तारी वारंट जारी किया था, हांलाकि असांजे आरोपों से इंकार कर दिया था, असांजे ने कहा था कि उन्होंने अमेरिका से संबंधित डॉक्यूमेंट को लीक किया था, जिसके कारण उन्हें स्वीडन से अमेरिका प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा।

असांजे ने  29 अप्रैल 2012 को अरेस्ट वारंट निकलने के बाद ब्रिटेन पुलिस के सामने समर्पण कर दिया था, उन्हें अदालत से सप्ताह भर में ही बेल मिल गई थी। असांजे का जन्म आस्ट्रेलिया में हुआ था, वह विकिलीक्स पर काम करने से पहले एक कम्प्यूटर प्रोग्रामर और हैकर थे। उन्हें विकिलीक्स पर किए कामों के लिए इकॉनोमिस्ट फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन अवॉर्ड और सेम एडम्स अवॉर्ड भी मिल चुका है।