comScore

बुराड़ी केस: पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा- बुजुर्ग महिला की मौत भी फंदे पर लटकने से हुई

July 12th, 2018 19:16 IST
बुराड़ी केस: पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा- बुजुर्ग महिला की मौत भी फंदे पर लटकने से हुई

हाईलाइट

  • बुराड़ी मामले में अब बीड़ी वाले बाबा का नाम भी जुड़ गया है।
  • पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जरूर यह साफ हो गया है कि 10 लोगों की मौत फांसी लगाने से ही हुई हैं।
  • 77 साल की नारायण देवी के शव की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आना बाकी है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में हुई एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत के मामले में लगातार नए-नए खुलासे हो रहे हैं। इन सभी खुलासों के बावजूद 11 लोगों की मौत आज भी एक रहस्य बनी हुई है। हालांकि इन सभी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जरूर यह साफ हो गया है कि सभी की मौत फांसी के फंदे पर लटकने से हुई हैं। गुरुवार को आई 11वें सदस्य की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी फांसी को ही मौत का कारण बताया गया है। यह रिपोर्ट इस परिवार की बुजुर्ग नारायणी देवी की थी, जो कमरे में मृत मिली थी। उनके अलावा बाकी सभी लोग हॉल में फांसी पर लटके मिले थे।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद इस मामले की जांच कर रहे अधिकारी ने बताया है कि सभी की मौत फांसी पर लटकने से हुई है। किसी के शरीर पर कोई खरोंच नहीं है, जिससे हत्या की सारी संभावनाएं खारिज हो जाती है। अधिकारी ने फिलहाल इस मामले में तांत्रिक कनेक्शन को नकारा है, लेकिन कहा है कि परिवार इस तरह की गतिविधियों में लिप्त हो सकता है। अधिकारी ने यह भी बताया है कि जांच में 8 रजिस्टर बरामद हुए हैं जो 2008 से लिखे जा रहे थे। मामले की आगे की जांच में और खुलासे हो सकते हैं।



ये भी पढ़ें : पिता के अलावा इन 4 आत्माओं से भी बात करता था ललित !

बता दें कि इस मामले में अब बीड़ी वाले बाबा का नाम भी जुड़ गया है। एक गुमनाम शख्स ने पुलिस को चिट्ठी लिखकर दावा किया कि इस मामले में एक बीड़ी वाले बाबा का हाथ है। गुमनाम चिट्ठी 3 जुलाई को लिखी गई है। शख्स ने चिट्ठी में बताया कि भाटिया परिवार और किसी तांत्रिक के बीच संपर्क था। परिवार लगातार उस बीड़ी वाले बाबा के टच में रहता था। चिठ्ठी में पुलिस से अपील की है कि इन मौतों के पीछे बाबा का हाथ हो सकता है इसलिए इसकी जांच की जाए।

ये भी पढ़ें : रजिस्टर के इन पन्नों पर लिखा है 11 मौतों का राज...पिता से होती थी सपने में बात

गुमनाम शख्स ने पुलिस को चिट्ठी लिखकर बताया है कि बुराड़ी में जिस भाटिया परिवार के 11 लोगों ने मोक्ष पाने की कामना से सामूहिक आत्महत्या की, वह दिल्ली के ही किसी बाबा के संपर्क में था, जो कि कराला में रहते हैं। बता दें कि कराला में बीड़ी वाले और दाढ़ी वाले बाबा के नाम से मशहूर बाबा अपने आप को हनुमान का भक्त कहते हैं। शाम 6 बजे तक झाड़-फूंक करते हैं।

किन्नर हर रोज देता था प्रसाद
बीड़ी वाले बाबा से पहले इसी मामले में एक किन्नर भी सामने आया था। किन्नर हर मंगलवार को मरघट बाबा के दरबार पर जाते थे। वहां से प्रसाद लेकर आते थे। किन्नर ने बताया था कि वो हर रोज भाटिया परिवार को प्रसाद भी दिया करता था। इसी तरह परिवार के रजिस्टर में कहा गया, वे अगली दिवाली नहीं देख सकेंगे। हालांकि पुलिस को मौत के मामले में अभी तक जांच में किसी बाहरी शख्स या तांत्रिक का हाथ होने का सबूत तो नहीं मिला है।

कमेंट करें
2UK9y