दैनिक भास्कर हिंदी: बाढ़ के बाद केरल में रैट फीवर का आतंक, 12 की मौत, 350 से ज्यादा संक्रमित

September 4th, 2018

हाईलाइट

  • केरल में आई भीषण बाढ़ के बाद अब वहां संक्रामक बीमारी फैल गई है।
  • इस बीमारी को स्थानीय भाषा में रैट फीवर कहा जा रहा है।
  • स्वास्थ्य मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने करीब 200 लोगों के इस बीमारी से संक्रमित होने की पुष्टि भी की है।

डिजिटल डेस्क, तिरुवनंतपुरम। केरल में आई भीषण बाढ़ के बाद अब वहां संक्रामक बीमारी फैल गई है। इस बीमारी को स्थानीय भाषा में रैट फीवर कहा जा रहा है। रैट फीवर संक्रमित पानी से फैलने वाली बीमारी है, जिसका असल नाम लेप्टस्पाइरोसिस है। यह चूहे जैसे अन्य जानवरों के संक्रमित होने के बाद उनके यूरीन से फैलती है। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने करीब 372 लोगों के इस बीमारी से संक्रमित होने की पुष्टि भी की है। जबकि दर्जनों लोगों की मौत इस बीमारी से हो चुकी है।

 



स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा का कहना है कि पीड़ितों ने दवाएं नहीं ली थीं जिस कारण ये संक्रमण फैला। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी रोकथाम के लिए अगस्त महीने में ही दवाएं बांटनी शुरू कर दी थीं। शैलजा ने बताया कि लोगों को लेप्टस्पाइरोसिस और संक्रमित पानी से होने वाली अन्य बीमारियों जैसे टायफॉइड व कालरा को लेकर भी चेताया गया था। इसके बावजूद रैट फीवर ने केरल में अपने पांव पसार लिए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक, अब तक इस बीमारी से 12 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। उनका कहना है कि पूरी मेडिकल रिपोर्ट मिलने के बाद यह आंकड़ा बढ़कर 40 पर भी पहुंच सकता है।    
    

खबरें और भी हैं...