दिल्ली: 45 लोगों से 4.6 करोड़ रुपये ठगने के आरोप में 2 गिरफ्तार

January 5th, 2022

हाईलाइट

  • आरोपियों की पहचान 39 वर्षीय जतिन गुलराजानी और 43 वर्षीय राज कुमार के रूप में हुई है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने दिल्ली विकास प्राधिकरण की लैंड पूलिंग पॉलिसी के नाम पर 45 लोगों को ठगने के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

आरोपियों की पहचान 39 वर्षीय जतिन गुलराजानी और 43 वर्षीय राज कुमार के रूप में हुई है, दोनों दिल्ली के निवासी हैं। उन्होंने डीडीए की नई शुरू की गई लैंड पूलिंग नीति से संबंधित तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया और जरूरतमंद लोगों को प्रमुख स्थानों पर किफायती आवास की पेशकश की थी।

मामले की जानकारी देते हुए अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एक व्यक्ति ने एमटीएनएल हाउसिंग सोसाइटी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। उसने आरोप लगाया कि उस सोसाइटी ने एक विज्ञापन प्रकाशित करवाया, जिसे पढ़ने के बाद उसने एमटीएनएल एम्प्लाइज हाउस वेलफेयर सोसाइटी में एक फ्लैट बुक किया था।

अगस्त, 2019 में छपे विज्ञापन को पढ़कर शिकायतकर्ता ने एक बीएचके फ्लैट (550 वर्ग फीट) कुल लागत 19,80,000 रुपये पर बुक की और जमीन की लागत के लिए तीन किस्तों में 4,51,000 रुपये का भुगतान किया।

दो साल बाद भी जब शिकायतकर्ता ने देखा कि जमीन पर कोई प्रगति नहीं हुई है, तो उसने शिकायत दर्ज कराई और बाद में पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 409, 420, 120 बी के तहत प्राथमिकी दर्ज की। अधिकारी ने कहा, फआईआर दर्ज होने के बाद पीड़ितों ने ईओडब्ल्यू से संपर्क किया और इस सोसायटी के खिलाफ शिकायत की।

जांच में सामने आया कि डीडीए की लैंड पूलिंग पॉलिसी के नाम पर 45 सदस्यों से करीब 4.60 करोड़ रुपये वसूले गए। इस राशि का लगभग 90 प्रतिशत मैट्रिक्स इंटरप्राइजेज के खाते में भेजा गया था और सोसाइटी के लिए भूमि की व्यवस्था करने के नाम पर एक बड़ा कमीशन दिया गया था।

अधिकारी ने बताया कि सोसाइटी के सचिव और एक आरोपी जतिन गुलराजानी की पत्नी और एक आरोपी व्यक्ति के बैंक खाते में बड़ी रकम जमा मिली।

उन्होंने आगे बताया कि मैट्रिक्स इंटरप्राइजेज द्वारा सोसाइटी की ओर से 4 करोड़ रुपये प्रति एकड़ में भूमि क्रय का अनुबंध किया गया था, जबकि इसी बीच भूमि के मालिक के साथ 2.25 करोड़ रुपये प्रति एकड़ की दर पर जमीन का अनुबंध एजेंसी द्वारा किया गया था।

इसके अलावा सोसाइटी ने मैट्रिक्स इंटरप्राइजेज को सदस्य उपलब्ध कराने के लिए भारी कमीशन भी दिया था।

आरोपी राज कुमार मैट्रिक्स इंटरप्राइजेज का मालिक था।

अधिकारी ने बताया कि मामले की जांच के बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले की आगे की जांच अभी जारी है।

दिल्ली पुलिस ने डीडीए की लैंड पूलिंग पॉलिसी के नाम पर सस्ते मकान मुहैया कराने वाले ऐसे जालसाजों से जनता को आगाह किया है। विशेष रूप से, आर्थिक अपराध शाखा ने अब तक 28 मामले दर्ज किए हैं और ऐसे अपराधों के संबंध में 24 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

 

(आईएएनएस)