comScore

NDRF कर्मी बना सीढ़ी, पीठ पर पैर रखकर नाव में उतरे लोग- देखें वीडियो

September 04th, 2018 18:57 IST

हाईलाइट

  • केरल में बाढ़ के बीच मददगार बनी NDRF की टीम
  • अपनी पीठ चढ़ाकर लोगों को नाव में उतारा
  • सोशल मीडिया पर वीडियो हो रहा है वायरल

डिजिटल डेस्क, तिरुअनंतपुरम। केरल में हर तरफ सिर्फ तबाही का मंजर नजर आ रहा है। पूरा राज्य पिछले 100 साल की सबसे भयानक बाढ़ की चपेट में है। सैकड़ों लोग मारे जा चुके है। ढाई लाख से ज्यादा लोगों ने अपना घर खो दिया है। 19 हजार करोड़ से ज्यादा की संपत्ति बर्बाद हो चुकी हैं। सड़क, रेल और हवाई सेवा बंद है। टेलीकॉम कंपनियों के नेटवर्क काम नहीं कर रहे हैं। इन सबके बीच मदद का मात्र आसरा भारतीय सेना है। सेना के जवान दिन-रात राहत-बचाव में जुटे हैं। भारी बारिश से लोगों के घरो में पानी भर गया है। सब अपनी छतों पर बैठकर आसमान की ओर मदद की आस देख रहे हैं। ऐसे मे आपदा मोचन दल (NDRF) और भारतीय सेना बाढ़ में फंसे लोगों की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। बाढ़ और तबाही के बीच NDRF की टीम केरलवासियों के लिए किसी देवदूत से कम नहीं हैं।

एनडीआरएफ कर्मी खुद की जान जोखिम में डालकर बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रहे हैं और जरूरतमंदों तक राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं। एनडीआरएफ की टीम का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें NDRF के जवान को खुद को सीढ़ी बनाकर भी लोगों की मदद कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर एक ऐसा वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें बाढ़ में फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए NDRF के जवान एक नाव को लेकर खड़े हैं। पानी अधिक होने की वजह से महिलाएं नाव में चढ़ नहीं पा रही है। महिलाओं की परेशानी देख NDRF के एक जवान पानी में घुटनों के बल खड़ा होकर सीढ़ी बनने का काम करता है। महिलाएं उस जवान की पीठ पर पैर रखकर नाव में सवार हो रही हैं। एनडीआरएफ के इस जवान का बाढ़ पीड़ितों के लिए यह समर्पण हर किसी के दिल को छू रहा है। जो भी इस वीडियो को देख रहा है, वह एनडीआरएफ की दिल खोल कर तारीफ कर रहा है। एनडीआरएफ के इस तरह के तमाम वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर अपलोड हो रहे हैं, जिनमें उनकी मेहनत को देखा जा सकता है। ऐसे कई मौके हैं जिनमें एनडीआरएफ के जवान खुद को सीढ़ी बनाकर जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं।

केरल मे बाढ़ से पीड़ित लोगों की मदद करने के लिए 58 टीमें राहत-बचाव के काम में जुटी हैं। अब तक ये टीमें बाढ़ में फंसे 15 हजार से अधिक लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा चुकी हैं। NDRF के अधिकारी ने बताया कि बाढ़ से जूझ रहे केरल में बल ने अपना राहत एवं बचाव अभियान तेज कर दिया है। सेना की जांबाजी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें भारतीय सेना की बहादुरी साफ दिखाई दे रही है। इस वीडियो को सबसे पहले भारतीय सेना ने अपने अधिकारिक ट्विटर पर अपलोड किया था। वीडियो में वायु सेना के कैप्टन पी राजकुमार ने अपनी जान की चिंता किए बगैर 42B हेलीकाप्टर को एक मकान की छत पर लैंड कराकर 26 लोगों को एयरलिफ्ट कर उनकी जान बचाई। वायु सेना के वीर जवान कप्तान पी राजकुमार ने बमुश्किल चॉपर को एक घर की छत पर उतारकर 32 लोगों का जीवन बचाया। राजकुमार पूर्व में शौर्य चक्र से सम्मानित हो चुके हैं। इससे पहले नौसेना ने एक वीडियो जारी किया था, जिसमें एक नेवी का हेलिकॉप्टर एक गर्भवती महिला को बचा रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि महिला की मदद के लिए हेलिकॉप्टर से रस्सी लटकाई गई है, जिसे महिला की कमर से ऊपर बांध दिया जाता है और धीरे-धीरे उन्हें ऊपर खींच लिया जाता है। इस दौरान महिला के गर्भाशय से लगा वॉटर बैग भी लीक हो गया था। बाद में महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया। इस मिशन को  सेना के कमांडर विजय वर्मा ने पूरा किया है।

कमेंट करें
fG0OR