दैनिक भास्कर हिंदी: lockdown India: कोरोना को हराने के लिए 88 फीसदी भारतीय लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में: सर्वे

April 10th, 2020

हाईलाइट

  • लॉकडाउन, सामाजिक दूरी और कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने का सबसे अच्छा तरीका
  • भारत में कोरोनवायरस के कुल मामलों की संख्या गुरुवार को 5,734 पहुंची

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोनवायरस (कोविड-19) के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। ऐसे में करीब 88 फीसदी भारतीयों को लगता है कि 14 अप्रैल को समाप्त होने वाले 21 दिन के राष्ट्रव्यापी बंद को आगे बढ़ाया जाना चाहिए। यह बात एक नए सर्वेक्षण में गुरुवार को सामने आई। समाचार प्लेटफॉर्म इनशॉर्ट्स के सर्वेक्षण के अनुसार निष्कर्षों से यह भी पता चला है कि 88 प्रतिशत उत्तरदाता लॉकडॉउन अवधि के दौरान ऑनलाइन भोजन ऑर्डर करने से बच रहे हैं।

इस सर्वेक्षण में 40,000 ऐप उपयोगकर्ताओं की प्रतिक्रिया शामिल थी। इसके अनुसार, 92 प्रतिशत उत्तरदाताओं को लगता है कि निजी क्षेत्र को कोविड-19 परीक्षण करने की अनुमति दी जानी चाहिए। सर्वेक्षण में कहा गया, लॉकडाउन, सामाजिक दूरी और कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है।

ओडिशा सरकार ने गुरुवार को कोविड-19 के प्रकोप से निपटने के लिए लॉकडाउन की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ाने का फैसला किया है। साथ ही 17 जून तक शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने का भी फैसला किया। ओडिशा देश का पहला राज्य है जिसने लॉकडाउन की अवधि को 15 दिनों के लिए बढ़ा दिया है।

भारत में कोरोनवायरस के कुल मामलों की संख्या गुरुवार को 5,734 तक पहुंच गई। इनमें से 5,095 सक्रिय मामले हैं, वहीं 166 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 472 लोगों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई है। महाराष्ट्र 1,135 सक्रिय मामलों के साथ सबसे अधिक प्रभावित राज्य है, यहां 117 लोग ठीक हो गए और उन्हें छुट्टी दे दी गई है। वहीं 72 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है।