comScore

जिस एक्सप्रेस वे पर उतारे गए थे फाइटर प्लेन, कार से धंस गई उसकी सर्विस लेन

September 04th, 2018 12:24 IST

हाईलाइट

  • उत्तरप्रदेश में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर सड़क का एक बड़ा हिस्सा धंस जाने से हुआ हादसा।
  • सड़क के आधे हिस्से में करीब 50 फीट गहरा गड्ढा हो गया।
  • हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर सभी कार सवार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। उत्तरप्रदेश में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर सड़क का एक बड़ा हिस्सा धंस जाने से हादसा हो गया है। हादसा एक्सप्रेस में बारिश की वजह से दरार आने के कारण हुआ है। सड़क के आधे हिस्से में करीब 50 फीट गहरा गड्ढा हो गया है। हादसा आगरा के डौकी क्षेत्र में वाजिदपुर पुलिया के पास हुआ है।

पुलिस के मुताबिक कार चालक मोहम्मद नूर शाह अपने तीन साथियों के साथ मुंबई से कार खरीदकर कन्नौज जा रहे थे। वे जीपीएस के माध्यम से रास्ता तय कर रहे थे। बुधवार सुबह पांच बजे आगरा सीमा में प्रवेश करते ही मोबाइल में इंटरनेट के नेटवर्क फेल हो गए। जिसके कारण वे आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर न जाकर उसके सर्विस रोड पर आ गए। सर्विस लेन पर गड्ढा दिखा, तो चालक ने ब्रेक लगाए। स्पीड तेज होने की वजह से कार गड्ढे तक आ गई और तभी कार के नीचे की जमीन धंस गई। सभी कार समेत 50 फीट नीचे चले गए।

हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर सभी कार सवार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। लेकिन कार अभी भी वहीं फंसी हुई है। हादसा आगरा के डौकी क्षेत्र में वाजिदपुर पुलिया के पास हुआ है। इस एक्सप्रेस-वे को अखिलेश सरकार ने अपनी उपलब्धि बताकर फाइटर प्लेन उतारे थे। 

इस हादसे को लेकर भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि हम तो पहले से ही बोलते रहे हैं कि इनका काम नहीं कारनामा बोलता है। समाजवादी पार्टी की सरकार के पांच साल में भ्रष्टाचार और अराजकता की पराकाष्ठा रही है। हम तो इनके कारनामों की जांच करवा भी रहे है पर अब उनकी पोल खुद इंद्र भगवान ने खोल दी है। मामले को देखते हुए योगी सरकार ने जांच के आदेश दे दिए हैं। इसको लेकर अगले 15 दिन में रिपोर्ट सौंपनी होगी। बारिश के कारण सड़क करीब 15 फीट तक कट गई।

इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण रिकॉर्ड समय में किया गया था। तत्त्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इसका उद्घाटन किया था। उद्घाटन के समय एक्सप्रेस वे पर वायु सेना के फाइटर प्लेन ने लैंड हुए थे। अभी पिछले साल ही अक्टूबर में भी कई फाइटर प्लेनों ने इस एक्सप्रेस पर अपना जलवा बिखेरा था। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का निर्माण कराया था। जो चंद घंटों की बारिश ने ही इसकी पोल खोल कर रख दी। अखिलेश यादव ने करीब 13200 करोड़ रुपए की लागत से लखनऊ-आगरा हाइवे को निर्माण कराया था। एक्सप्रेस-वे को बनने में 22 महीने का समय लगा था।

कमेंट करें
JD9xK