comScore

रोजाना बढ़ रहे हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, विरोध के बावजूद खामोश सरकार

September 10th, 2018 12:09 IST

हाईलाइट

  • रोजाना बढ़ रहे हैं पेट्रोल-डीजल के दाम
  • पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाना जरुरी-प्रधान
  • मुंबई में पेट्रोल 87.89 रुपए लीटर हुआ

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल में लगातार हो रही बढ़ोतरी से आम जनता बेहाल है। हर दिन ईंधन के दामों में वृद्धि हो रही है। विपक्ष के विरोध के बावजूद सरकार दाम कम करने को लेकर कोई कदम नहीं उठा रही है। रविवार को फिर एक बार पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी हुई। इस बढ़ोतरी के साथ अब नई दिल्ली में पेट्रोल 80.50 रुपए प्रति लीटर हो चुका है, वहीं डीजल 72.61 रुपए प्रति लीटर के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया है। मुंबई में पेट्रोल 87.89 रुपए लीटर तो डीजल 77.09 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

पेट्रोलियम मंत्री  का बयान
पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि अब जरूरी हो गया है कि पेट्रोल-डीजल को जीएसटी (गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स) के दायरे में लाया जाए। तेल कीमतों में बढ़ोतरी की वजह अंतर्राष्ट्रीय बाजार में हो रही उथल पुथल है। इन्हें जीएसटी के दायरे में लाकर ही कीमतों पर कुछ नियंत्रण किया जा सकता है। शनिवार को फिर एक बार पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी हुई। इस बढ़ोतरी के साथ अब नई दिल्ली में पेट्रोल 80.38 रुपए प्रति लीटर हो चुका है, वहीं डीजल 72.51 रुपए प्रति लीटर के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया है। मुंबई में पेट्रोल 87.77 रुपए लीटर तो डीजल 76.98 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

विपक्ष के निशाने पर सरकार 
विपक्ष पेट्रोल और डीजल के दामों का लेकर लगातार सरकार को घेर रहा है, साथ ही विपक्षी दल पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के अंतरगत लाने की मांग भी लंबे समय से कर रहे हैं। वहीं पेट्रोल और डीजल के आसमान छूते दामों को लेकर लोगों में आक्रोश है। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और एनडीए के पूर्व सहयोगी एन चंद्रबाबू नायडू ने तेल के दामों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर हाल ही में अपने एक बयान में कहा थी कि जल्द ही देश में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर होगी। पेट्रोल-डीजल के बढ़ रहे दामों पर अंकुश लगाने में सरकार नाकाम रही है, लगातार महंगे हो रहे भी पेट्रोल-डीजल के कारण माल ढुलाई भाड़ा भी बढ़ गया है। इसके चलते देशभर में फल सब्जी से लेकर रोजमर्रा की जरूरतों के सामान भी महंगे हो रहे हैं। आम लोगो को इसके चलते महंगे पेट्रोल के साथ रोजमर्रा की जरूरतों के सामान के भी अधिक दाम देने पड़ रहे हैं। 

कमेंट करें
fAheX