comScore

एआईसीटीई ने लॉन्च किया राष्ट्रीय लीलावती अवॉर्ड्स

November 16th, 2020 19:31 IST
 एआईसीटीई ने लॉन्च किया राष्ट्रीय लीलावती अवॉर्ड्स

हाईलाइट

  • एआईसीटीई ने लॉन्च किया राष्ट्रीय लीलावती अवॉर्ड्स

नई दिल्ली, 16 नवंबर (आईएएनएस)। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) ने महिला सशक्तिकरण की राह में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल करते हुए एक नया एजुकेशन प्रोग्राम, लीलावती अवॉर्डस 2020 लॉन्च किया है। लीलावती अवॉर्ड्स 2020 की थीम महिला सशक्तिकरण है। इस पुरस्कार समारोह का आयोजन 17 नवंबर 2020 को किया जाएगा।

इस पुरस्कार का लक्ष्य जीवन के सभी क्षेत्रों में महिलाओं के साथ समानता और निष्पक्षता का व्यवहार करने के क्षेत्र में किए गए कार्यो की पहचान करना है। इस पहल के माध्यम से एआईसीटीई के सभी मान्यता प्राप्त संस्थानों में सभी हितधारकों (खासतौर पर छात्राओं) को समाज में अवसर मिलेगा।

इसके जरिए लैंगिक भेदभाव से जुड़े सभी मुद्दों, जैसे निरक्षरता, बेरोजगारी, आर्थिक और पोषण संबंधी असमानताओं, मातृ मृत्युदर और मानवाधिकार का समाधान का मिलेगा। इसके अलावा अगर किसी ने महिलाओं की मुक्ति और उनके सशक्तिकरण की दिशा में बड़े पैमाने पर प्रयास किया हो तो वह अपने प्रयासों और उपलब्धियों को सामने ला सकता है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने एक आधिकारिक जानकारी देते हुए कहा, यह पुरस्कार संस्थागत और टीम लेवल पर दिया जाएगा। इसमें हर टीम में कम से कम दो महिला सदस्य होंगी। हर उपविषय के तहत तीन पुरस्कार दिए जाएंगे। इस तरह महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में काम कर रही विभिन्न टीमों को कुल 18 पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे।

एआईसीटीई ने कहा, इस पुरस्कार का उद्देश्य स्वच्छता, साफ-सफाई, स्वास्थ्य, पोषण, साक्षरता, रोजगार, टेक्नोलॉजी, क्रेडिट, मार्केटिंग, नवाचार, कौशल विकास, प्राकृतिक संसाधनों और महिला अधिकार जैसे मुद्दों के प्रति जागरूकता फैलाना है। एआईसीटीई का पूरा ध्यान बच्चियों, किशोरियों और महिलाओं की भलाई और कल्याण पर केंद्रित है। वह लैंगिक असमानता पर जागरूकता पैदा कर महिला शक्ति के विकास पर मुख्य रूप से अपना फोकस रखता है।

एआईसीटीई लीलावती अवॉर्ड-2020 सभी योग्य टीमों से आवेदन आमंत्रित करता है, जिन्होंने महिलाओं को सशक्त बनाने के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिया हो और जिनके कार्यो ने समाज और महिलाओं की स्थिति को मजबूत बनाने की दिशा में जबर्दस्त प्रभाव डाला हो। योग्य टीमें निम्न उपविषयों के तहत अपने उल्लेखनीय कार्यो का प्रदर्शन एक शॉर्ट विडियो क्लिप में कर सकती हैं (यह शॉर्ट विडियो 4-5 मिनट से ज्यादा का नहीं होना चाहिए)। इन उपविषयों में महिला स्वास्थ्य, आत्मरक्षा, स्वच्छता, साक्षरता और अन्य मुद्दे शामिल हैं।

जीसीबी/एएनएम

कमेंट करें
USavm