comScore

Coronavirus: एअर इंडिया ने यात्रा पर किया लॉकडाउन, 30 अप्रैल तक सभी बुकिंग बंद


हाईलाइट

  • भारत में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के मरीज
  • एअर इंडिया ने बंद की बुकिंग

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नोवल कोरोना वायरस (Novel Coronavirus) ने पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है। इस खतरनाक महामारी को रोकने के लिए भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन है, जो 14 अप्रैल तक लागू रहेगा। लॉकडाउन (Lockdown) के आगे बढ़ने की चर्चा के बीच एअर इंडिया (Air India) ने एक बड़ा फैसला लिया है। एअर इंडिया ने सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की बुकिंग को 30 अप्रैल तक बंद कर दिया है। 

नोएडा में चार होटलों में बनेंगे आइसोलेशल वार्ड
कोविड-19 (COVID-19) के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए नोएडा में जिला प्रशासन ने संक्रमित मरीजों को आइसोलेट करने के लिए जिले के चार होटलों को टेकओवर कर लिया है। इन होटलों में आईसोलेशन वार्ड बनाया जाएगा। नोएडा के नए डीएम सुहास एल.वाई. ने जिले के कुल 4 होटलों को टेकओवर करने का निर्देश दिया। इन सभी होटलों में आइसोलेशन वार्ड बनाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। नोएडा जिला प्रशासन की तरफ से होटल जिंजर, होटल मोजक, होटल गोल्फ व्यू और होटल रेडिसन ब्लू होटल को टेकओवर किया गया है।

कोरोना की रोकथाम को राजनाथ के घर हुई मंत्रिसमूह की बैठक
कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामलों में बढ़ोतरी के बीच शुक्रवार को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के घर मंत्रिसमूह की बैठक हुई। बैठक में कोविड 19 के बढ़ते प्रभाव, लॉकडाउन के कारण उत्पन्न स्थिति और संपूर्ण स्वास्थ्य सेवा प्रणाली की विस्तृत समीक्षा की गई। रक्षामंत्री की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान, सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, कपड़ा मंत्री स्मिृति ईरानी, मंत्री सदानंद गौड़ा, गिरिराज सिंह, जी. किशन रेड्डी और नरेंद्र सिंह तोमर ने शिरकत की।

इंडियन रेलवे ने शुरू की टिकट बुकिंग, 15 अप्रैल से कर सकेंगे यात्रा

महामारी से लड़ने वाले 14 लोगों को शहीद का दर्जा
चीन के हुबेई प्रांत की सरकार ने नए कोरोना वायरस निमोनिया महामारी से लड़ने के दौरान जाने वाले वांग पिंग, फंग श्याओलिन, च्यांग श्युएछिंग, ल्यो जि़मिंग, ली वनल्यांग आदि 14 लोगों को शहीद का दर्जा दिया। उनमें से चिकित्साकर्मी हैं, पुलिसकर्मी हैं और लोगों की मदद करने वाले सामुदायिक कार्यकर्ता भी हैं। शहीद चीन द्वारा नागरिकों को दिया जाने वाला सर्वोच्च मानद उपाधि है, जिन्होंने अपनी जान देश, समाज और लोगों के लिए समर्पित कर दी है।

                                                                                                                                                                                                            आईएएनस ईनपुट के साथ
 

कमेंट करें
hKCzF