comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

शिया मौलवी की अपील, अटल जी के निधन पर सादगी से मनाएं बकरीद

शिया मौलवी की अपील, अटल जी के निधन पर सादगी से मनाएं बकरीद

हाईलाइट

  • पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से पूरे देश में शोक की लहर है।
  • देश के लगभग सभी राज्यों ने तीन से सात दिवसीय शोक भी घोषित किया है।
  • इसी क्रम में शिया मौलवी मौलाना सैफ अब्बास ने भी मुस्लिम भाईयों से साधारण तरीके से ईद मनाने की अपील की है।

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से पूरे देश में शोक की लहर है। देश के लगभग सभी राज्यों ने तीन से सात दिवसीय शोक भी घोषित किया है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के एक शिया मौलवी ने मुस्लिम भाइयों से साधारण तरीके से ईद मनाने की अपील की है। यह अपील शिया मौलवी मौलाना सैफ अब्बास ने की है।

मुस्लिम भाईयों से मौलाना सैफ अब्बास ने अपील करते हुए कहा, 'पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से हमारा राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका हुआ है, इसलिए मुस्लिम भाइयों से अपील है कि बकरीद का त्योहार साधारण तरीके से मनाएं। नमाज पढ़ें और कुर्बानी दें, लेकिन जश्न न मनाएं।'
 

बता दें कि अटलजी के निधन पर यूपी की योगी सरकार ने भी 7 दिनों के लिए राजकीय शोक का ऐलान किया है। इस दौरान सभी सरकारी भवनों पर लगे राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके रहेंगे। इसी दौरान 22 अगस्त को बकरीद का त्योहार है।

गौरतलब है कि इससे पहले इस्‍लामि‍क सेंटर ऑफ इण्डिया के अध्‍यक्ष मौलाना खालिद रशीद ने बताया कि अपील में मुसलमानों से खासतौर पर ताकीद की गयी है कि वे गलियों में या सड़कों पर अथवा सार्वजनिक स्‍थानों पर कुर्बानी बिल्‍कुल ना करें, ताकि आम लोगों को दिक्‍कत ना हो। अपने घरों, बूचड़खानों या बड़े मदरसों में ही कुर्बानी की जाए।

गाय-बैल की कुर्बानी न देने की अपील
साथ ही इससे पहले देश के प्रमुख मुस्लिम संगठनों ने मुल्‍क के मुसलमानों से बकरीद के मौके पर गाय या बैल की कुर्बानी कतई ना करने की अपील की थी। मौलाना रशीद समेत ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के अध्‍यक्ष मौलाना राबे हसनी नदवी, जमात-ए-इस्‍लामी के अध्‍यक्ष मौलाना जलालुद्दीन उमरी ने मुसलमानों से अपील की थी कि हर साल की तरह इस साल भी बकरीद के मौके पर गो‍कशी से परहेज करें।

कमेंट करें
7gX6z