दैनिक भास्कर हिंदी: ममता ने बीजेपी को सांप्रदायिक पार्टी बताने के लिए ‘यात्रा’ में जोड़ दिया ‘रथ’ : बाबुल सुप्रियो

December 20th, 2018

हाईलाइट

  • बीजेपी की 'गणतंत्र बचाओ यात्रा' को लेकर बाबुल सुप्रियो ने साधे ममता पर निशाने
  • सुप्रियो ने कहा- ममता ने बीजेपी की यात्रा को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की
  • बीजेपी की बंगाल में गणतंत्र बचाओ यात्रा को कलकत्ता हाई कोर्ट ने मंजूरी दे दी है

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। केन्द्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने बीजेपी की 'गणतंत्र बचाओ यात्रा' को लेकर ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। उन्होंने ममता बनर्जी पर बीजेपी की इस यात्रा को सांप्रदायिक रंग देने का आरोप लगाया। सुप्रियो ने कहा कि ममता बनर्जी ने बेहद शातिराना अंदाज में यात्रा में  रथ जोड़ दिया, ताकि बीजेपी को सांप्रदायिक पार्टी बताया जा सके।

सुप्रियो ने ममता के लिए कहा, 'जब आप यात्रा में रथ जोड़ देते हैं तो फिर आप इस यात्रा को महाभारत और रामायण से कनेक्ट कर सकते हैं और फिर आप बहुत आसानी से बीजेपी पर सांप्रदायिक पार्टी होने का आरोप लगा सकते हैं।' सुप्रियो ने इसके साथ यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल सीएम ने यह सब अल्पसंख्यकों को लुभाने के लिए किया।

 

 

गौरतलब है कि बीजेपी द्वारा पश्चिम बंगाल में प्रस्तावित 'गणतंत्र बचाओ यात्रा' को कलकत्ता हाई कोर्ट ने मंजूरी दे दी है। ममता सरकार ने सांप्रदायिक सद्भाव बिगड़ने का हवाला देकर बीजेपी की इस यात्रा को मंजूरी देने से इनकार कर दिया था। इसके विरोध में बीजेपी के स्थानीय और राष्ट्रीय नेता पिछले कई दिनों से ममता सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। हालांकि ममता सरकार हाई कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गई है।

बता दें कि बीजेपी की इस यात्रा की तारीखें पहले ही निर्धारित कर ली गई हैं। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व में 22 दिसंबर को यह यात्रा कूच बिहार से, 24 दिसंबर को दक्षिण 24 परगना जिले के काकद्वीप से और 26 दिसंबर को बीरभूम जिले के तारपीठ से निकलेगी।