दैनिक भास्कर हिंदी: कांकेर में मतदान के एक दिन पहले नक्सली हमला, BSF का एक जवान शहीद कई घायल

November 11th, 2018

हाईलाइट

  • छत्तीसगढ़ में चुनाव से पहले नक्सली हमला
  • कांकेर जिले में नक्सलियों ने BSF की एक सर्च टीम पर IID के जरिए हमला कर दिया है
  • छतीसगढ़ के बीजापुर जिले में भी बीते दिनों हुए तमाम नक्सली हमलों के बाद रविवार को माओवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई है।

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव से ठीक एक दिन पहले नक्सलियों ने सुरक्षाबलों पर बड़ा हमला कर दिया है। कांकेर जिले में नक्सलियों ने BSF की एक सर्च टीम पर IED के जरिए हमला कर दिया है। इस नक्सली हमले में BSF का एक जवान शहीद हो गया है। साथ ही कई जवान घायल बताए जा रहे है। बता दें कि कांकेर विधानसभा क्षेत्र में कल (सोमवार) को 1 लाख 69 से मतदाता मतदान करेंगे। ऐसे में उनकी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कई इंतजाम नाकाफी नजर आ रहे है।

 

 

रविवार को हुई इस वारदात में BSF का एक जवान जख्मी हुआ है। जानकारी के मुताबिक BSF की एक पट्रोलिंग टीम रविवार सुबह कांकेर के कोयलीबेड़ा इलाके में पट्रोलिंग के लिए निकली थी। इसी दौरान नक्सलियों ने यहां पर लगाई 6 IED में सीरियल ब्लास्ट किया, जिसकी चपेट में BSF का एक वाहन भी आ गया। ब्लास्ट के बाद वाहन में सवार BSF का एक ASI जख्मी हो गया, जिसे इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में शिफ्ट किया गया। वहीं घटना के बाद इलाके में बड़े स्तर पर सर्च ऑपरेशन शुरू कराया गया।

 

 

गौरतलब है कि छतीसगढ़ विधानसभा चुनाव के क्रम में सोमवार को तमाम नक्सल प्रभावित इलाकों में वोटिंग कराई जानी है। इस चुनाव के लिए प्रचार अभियान शनिवार शाम 5 बजे बंद हो चुका है। बस्तर और राजनंदगांव की 18 सीटों पर सोमवार को मतदान होना है। पुलिस ने सभी पोलिंग बूथों को अति संवेदनशील बूथों में रखा है। जब से यहां आचार संहिता लगी है तब से लेकर अब तक यहां तीन नक्सलवादी हिंसाएं हो चुकी हैं।

 

बीजापुर में एनकाउंटर
छतीसगढ़ के बीजापुर जिले में भी बीते दिनों हुए तमाम नक्सली हमलों के बाद रविवार को माओवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई है। इस एनकाउंटर के दौरान एक नक्सली को मार गिराया गया है, जबकि एक अन्य को सुरक्षाबलों ने गिरफ्तार किया है। इन माओवादियों के पास से भारी मात्रा में असलहे और विस्फोटक बरामद किए गए हैं। बता दें कि बीजापुर में हाल ही में कई बड़े नक्सली हमले हुए थे। बीते 6 नवंबर को ही बीजापुर के उसूर गांव के करीब नक्सलियों ने यात्री बस में आग लगा दी थी। इससे पहले 27 अक्टूबर को बीजापुर में नक्सलियों ने यहां पर CRPF की एक रोड ओपनिंग पार्टी पर हमला किया था। इस घटना में 4 जवान शहीद हुए थे।

 

 

खबरें और भी हैं...