comScore

आतंकियों का गढ़ बन रहा बंगाल, बीजेपी सांसदों का संसद परिसर में प्रदर्शन

September 20th, 2020 20:31 IST
 आतंकियों का गढ़ बन रहा बंगाल, बीजेपी सांसदों का संसद परिसर में प्रदर्शन

हाईलाइट

  • आतंकियों का गढ़ बन रहा बंगाल, बीजेपी सांसदों का संसद परिसर में प्रदर्शन

नई दिल्ली, 20 सितंबर(आईएएनएस)। पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से अलकायदा के छह आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद राज्य के भाजपा सांसदों ने ममता बनर्जी सरकार पर आतंकी तत्वों को पनाह देने का आरोप लगाया है। राज्य के भाजपा सांसदों ने रविवार को संसद भवन परिसर में गांधी प्रतिमा के सामने तृणमूल कांग्रेस की ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदेश अध्यक्ष और लोकसभा सांसद दिलीप घोष, दार्जिलिंग सांसद राजू बिष्ट सहित दस सांसदों ने इस विरोध-प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

भाजपा सांसदों ने कहा कि पश्चिम बंगाल में लगातार कानून-व्यवस्था बिगड़ रही है। सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के घरों में बम बनाने समय विस्फोट की कई घटनाएं हुईं हैं। नकली नोट, ड्रग और अन्य तरह के अवैध व्यापार और मानव तस्करी की घटनाओं में पश्चिम बंगाल अव्वल है। राज्य में आईएसआई के कई कनेक्शन का खुलासा हो चुका है। जमात ए मुजाहिद्दीन आतंकियों को पश्चिम बंगाल में संरक्षण मिलता है। एनआईए ने भी शुक्रवार को अल कायदा आतंकियो को राज्य से गिरफ्तार किया। यह सब सत्ता पक्ष के बगैर संभव नहीं है।

दार्जिलिंग से भाजपा के लोकसभा सांसद राजू बिष्ट ने कहा कि सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस की सरकार ने पुलिस राज की स्थापना की है। राजनीतिक विरोधियों की हत्याएं हो रहीं हैं। खिलाफ बोलने वालों को सताने वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है।

राजू बिष्ट ने कहा, बंगाल की धरती ने राजा राम मोहन राय, स्वामी विवेकानंद, ईश्वर चंद विद्यासागर, गुरुदेव रबिंद्रनाथ टैगोर, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, सत्यजीत राय सहित सैंकड़ों हस्तियों को जन्म दिया। जिन्होंने देश ही नहीं दुनिया को रास्ता दिखाया। ऐसा माना जाता है कि बंगाल आज जो सोचता है, उसे भारत कल सोचता है। लेकिन पहले लेफ्ट शासन और अब तृणमूल कांग्रेस सरकार में पश्चिम बंगाल कहीं पीछे छूट गया है। जब पूरा देश 21 वीं सदी से कदमताल कर रहा है, तब ममता बनर्जी सरकार राज्य को 16 और 17 वीं सदी में ले जाने में जुटी है।

एनएनएम/आरएचए

कमेंट करें
C8TFA