comScore

BJP सांसद बोले, GDP से ज्यादा जरुरी है सतत आर्थिक विकास

BJP सांसद बोले, GDP से ज्यादा जरुरी है सतत आर्थिक विकास

हाईलाइट

  • दुबे ने कहा कि भविष्य में जीडीपी का कोई खास उपयोग नहीं होगा
  • बीजेपी सांसद ने कहा कि जीडीपी 1934 से पहले कोई जीडीपी नहीं थी
  • दुबे ने कहा ,जीडीपी से ज्यादा जरुरी है कि सतत आर्थिक विकास

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र के 11वें दिन भी जीडीपी में गिरावट को लेकर जबरदस्त बहस छिड़ी हुई है। इसी ​दौरान झारखंड के गोड्डा से भाजपा के सदस्य निशिकांत दुबे ने जीडीपी पर बयान दिया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि जीडीपी 1934 में आई इससे पहले कोई जीडीपी नहीं थी। केवल जीडीपी को बाइबल, रामायण या महाभारत मान लेना सत्य नहीं है और भविष्य में जीडीपी का कोई खास उपयोग नहीं होगा।

निशिकांत दुबे ने कहा कि आज की नई थ्योरी है कि आम आदमी का सतत कल्याण हो रहा है कि नहीं हो रहा। उन्होंने कहा कि जीडीपी से ज्यादा जरुरी है कि सतत आर्थिक विकास हो रहा है कि नहीं हो रहा।

वहीं शिवसेना सांसद अरविंद सांवत ने निशिकांत दुबे को जवाब देते हुए कहा कि, जीडीपी जब 4.5 पर आ गई तो पूरी हलचल मच गई। 2013 के बाद पहली बार इतना नीचे गई। अब इतनी नीचे जाने के बाद निशिकांत दुबे से मैंने नई बात सुनी।  मुझे कमाल लगा कि वक्त बदल जाने पर आदमी भी बदल जाते हैं। लेकिन हम नहीं बदले हैं। जो अच्छा है उसे अच्छा कहेंगे और जो बुरा है उसे बुरा कहेंगे।

कमेंट करें
o6w2k