comScore

भाजपा ने हरियाणा को छोड़ महाराष्ट्र में लगाया पूरा जोर, आखिर क्यों?

भाजपा ने हरियाणा को छोड़ महाराष्ट्र में लगाया पूरा जोर, आखिर क्यों?

हाईलाइट

  • बीजेपी ने महाराष्ट्र में झोंकी पूरी ताकत
  • जपा की लड़ाई कांग्रेस-राकांपा गठबंधन से , अंदरखाने शिवसेना से भी
  • बीजेपी की कोशिश, अकेले दम पर बहुमत के करीब पहुंचने की

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने हरियाणा को छोड़ महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में पूरी ताकत झोंक दी है। दिल्ली से कई राष्ट्रीय नेताओं को चुनाव प्रबंधन के लिए महाराष्ट्र के मोर्चे पर लगाया गया है। इसके पीछे कई वजहें बताई जा रही हैं।

दरअसल, हरियाणा में भाजपा को राह आसान लग रही है, मगर महाराष्ट्र में थोड़ी मुश्किलें आ खड़ी हुई हैं। महाराष्ट्र में भाजपा की लड़ाई कांग्रेस-राकांपा गठबंधन से तो है ही, अंदरखाने शिवसेना से भी है।

भाजपा के एक नेता ने आईएएनएस से कहा, देश के हर हिस्से की तरह महाराष्ट्र में भी विपक्ष भाजपा का मुकाबला करने की स्थिति में नहीं है। सच तो यह है कि महाराष्ट्र में हमारी लड़ाई विपक्ष से कम, शिवसेना से ज्यादा है।

सूत्रों का कहना है कि अगर शिवसेना पिछली बार से ज्यादा सीटें पाने में सफल रही तो वह सरकार में अपनी हिस्सेदारी को लेकर मोलभाव पर उतर आएगी। इससे आशंकित भाजपा की कोशिश है कि वह अकेले पूर्ण बहुमत के आंकड़े तक पहुंचे। यही वजह है कि पार्टी ने महाराष्ट्र में पूरी ताकत झोंक दी है।

भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के निर्देश पर गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या लगातार महाराष्ट्र में डटे हुए हैं। मौर्या महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के सह प्रभारी भी हैं। सक्रियता का आलम यह है कि महाराष्ट्र में बसे 40 लाख से ज्यादा हिंदी भाषी, उत्तर-भारतीयों का वोट पाने के लिए उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों के जिलास्तरीय नेताओं तक को यहां जनसंपर्क अभियान में लगाया गया है।

शीर्ष नेताओं की बात करें तो भाजपा के दो राष्ट्रीय महासचिवों -भूपेंद्र यादव और सरोज पांडेय- ने यहां एक महीने से भी अधिक समय से डेरा डाल रखा है। भूपेंद्र यादव महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव प्रभारी हैं तो सरोज पांडेय राज्य प्रभारी हैं। दोनों नेता राज्य के चुनाव प्रबंधन में इस कदर व्यस्त हैं कि इस दौरान वे दिल्ली आने के लिए भी समय नहीं निकाल पा रहे हैं।

भूपेंद्र यादव को पार्टी अमूमन संकट वाले राज्यों में लगाती है। ऐसे में महाराष्ट्र में उनकी तैनाती की अहमियत समझी जा सकती है। वहीं केंद्रीय मंत्रियों की बात करें तो पार्टी के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी, पीयूष गोयल और स्मृति ईरानी भी महाराष्ट्र में अभियान को धार दे रहे हैं। गडकरी और ईरानी के स्तर से एक दिन में कई रैलियां हो रही हैं।

खास बात यह है कि भाजपा ने महाराष्ट्र चुनाव में मीडिया मैनेजमेंट के लिए अपने दोनों शीर्ष पदाधिकारियों को लगा रखा है। इसमें राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी और सह प्रभारी व बिहार के एमएलसी संजय मयूख हैं। जबकि हरियाणा में मीडिया मैनेजमेंट का काम राष्ट्रीय प्रवक्ता सुदेश वर्मा ही देख रहे हैं।

हरियाणा की बात करें तो यहां बतौर विधानसभा चुनाव प्रभारी केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर इलेक्शन मैनेजमेंट देख रहे हैं। यहां पार्टी ने सिर्फ एक राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अनिल जैन को मोर्चे पर लगाया है। जैन ही राज्य के प्रभारी भी हैं। संगठन महामंत्री बी.एल. संतोष भी बीच-बीच में हरियाणा पहुंचकर चुनाव जीतने का मंत्र नेताओं को दे रहे हैं। हरियाणा में मोदी-शाह और राजनाथ सिंह की ताबड़तोड़ रैलियां हो रही हैं, मगर महाराष्ट्र की तरह यहां राष्ट्रीय नेताओं का जमावड़ा कम है।

सूत्र बताते हैं कि हरियाणा में रास्ता आसान देख भाजपा ने यहां चुनाव लड़ने में राष्ट्रीय नेताओं से ज्यादा स्थानीय नेताओं पर ही भरोसा जताया है।

सूत्र बताते हैं कि हरियाणा की तुलना में महाराष्ट्र पर भाजपा के खास फोकस के पीछे कई वजहें हैं। एक तो हरियाणा में सिर्फ 90 सीटें हैं, वहीं महाराष्ट्र में 288 विधानसभा सीटें हैं। दूसरी बात कि हरियाणा के बजाए महाराष्ट्र में ज्यादा चुनौतियां हैं।

महाराष्ट्र में विपक्ष कुछ मजबूत है। भाजपा को यहां दोहरी चुनौतियों से जूझना पड़ रहा है। एक तरफ उसे कांग्रेस-राकांपा गठबंधन से लड़ना है तो दूसरी तरफ सीट बंटवारे से लेकर अब तक उसकी गठबंधन सहयोगी शिवसेना से विभिन्न मसलों पर नूराकुश्ती चल रही है।

2014 के विधानसभा चुनाव में गठबंधन टूटने पर सभी 288 विधानसभा सीटों पर अलग-अलग लड़ने पर भाजपा को 122 सीटें मिलीं थीं, वहीं शिवसेना को सिर्फ 63 हासिल हुईं थीं। जबकि कांग्रेस और राकांपा को क्रमश: 42 और 41 सीटें मिलीं थीं।

पूर्ण बहुमत से 20 सीटें कम होने के कारण तब भाजपा को शिवसेना के समर्थन से सरकार बनानी पड़ी थी। इस बार 2019 के विधानसभा चुनाव में भाजपा गठबंधन के कारण सिर्फ 150 सीटों पर खुद लड़ रही है, वहीं 14 सीटों पर उसके ही सिंबल पर अन्य सहयोगी दल लड़ रहे हैं। जबकि शिवसेना 124 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। ऐसे में भाजपा को लगता है कि इस बार कम सीटों पर चुनाव लड़ने के कारण अगर पिछली बार से कम सीटें आईं और शिवसेना की सीटें बढ़ीं तो भाजपा के लिए मुश्किलें होंगी।

पीएमसी बैंक घोटाले ने भाजपा के लिए एक नई मुश्किल खड़ी कर दी है। किसानों की समस्या पहले से पार्टी को परेशान कर रही है।

सूत्रों का कहना है कि यही वजह है कि भाजपा ने महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव के लिए पूरी ताकत झोंक दी है।

कमेंट करें
EXaSc
NEXT STORY

Tokyo Olympics : इस खूबसूरत तीरंदाज का क्या है ओलंपिक कनेक्शन, जिसके नैनों के बाण से घायल हो रहे हैं कई!

Tokyo Olympics : इस खूबसूरत तीरंदाज का क्या है ओलंपिक कनेक्शन, जिसके नैनों के बाण से घायल हो रहे हैं कई!

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। जापान की राजधानी टोक्यो में ओलंपिक खेलों का आयोजन हो रहा है। 'खेलों के महोत्सव ' में जहां कुछ महिला खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से सुर्खियों  में हैं तो कुछ अपनी खूबसूरती की वजह से सोशल मीडिया पर छाई हुई हैं । हालांकि कुछ ऐसी भी हैं, जो ओलंपिक का हिस्सा तो नहीं हैं, लेकिन लोग उन्हें वायरल कर देते हैं ।

Fans capture heartwarming photos of TWICE during Korea's first snowfall - Koreaboo

Indian Men Are Obsessed With TWICE Tzuyu For One Special Reason - Koreaboo

ऐसी ही एक लड़की है तजुयू  (Tzuyu), जिनका वीडियो सोशल मीडिया पर इन दिनों काफी वायरल  हो रहा है। उन्हें टोक्यो ओलंपिक से जोड़कर बताया जा रहा है। तजुयू  (Tzuyu) को चीन, ताइवान के अलावा कोरिया की तीरंदाजी टीम का हिस्सा बताया जा रहा है।  

Viral Hair Flip : Tzuyu's Graceful Archery Hair Flip Shot Goes Viral, Watch It Here

तजुयू (Tzuyu) का जो वीडियो वायरल हो रहा है उसमें वह तीरंदाजी में हिस्सा लेते हुए दिख रही हैं। कोई उन्हें कोरिया का तीरंदाज बता रहा है तो कोई चीन का। लेकिन आपको बता दें कि (Tzuyu) का ओलंपिक से दूर-दूर तक कोई वास्ता नहीं है।

Tzuyu - Tzuyu Archery - 1366x2048 Wallpaper - teahub.io

Tzuyu Twice Archery

ब्राजील के एक पत्रकार ने ट्वीट किया, 'मेरी दोस्त को लगा कि  तजुयू (Tzuyu) तीरंदाज हैं और उन्होंने वायरल ट्वीट मुझे भेजा। मुझे बताना पड़ा कि  तजुयू  (Tzuyu) एक आइडल हैं और उन्होंने आइडल स्टार एथलेटिक्स चैम्पियनशिप (ISAC) में हिस्सा लिया था।'

 तो इस ट्वीट से साफ हो गया की तजुयू (Tzuyu) की तीरंदाजी का वीडियो तब का है जब उन्होंने ISAC में हिस्सा लिया थ। तजुयू (Tzuyu) ने हर बार स्टार एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में हिस्सा लिया है, और हमेशा से वह अपने कौशल और सुंदरता दोनों के लिए वायरल हुईं है । 

 तजुयू (Tzuyu) का जो वीडियो वायरल हो रहा है वो साल 2019 का है । तजुयू  (Tzuyu) ताइवान से हैं और सिंगर हैं। यहां ये बात मानने योग्य है की सब  ओलंपिक में  तजुयू (Tzuyu) को तीरंदाजी में हिस्सा लेते हुए देखना पसंद करेंगे। उम्मीद करते है, जब कोविड -19 महामारी नियंत्रण में होगी, तो ISAC की फिर से शुरुआत होगी और  तजुयू (Tzuyu) एक बार फिर से  एक्शन में दिखेंगी।

10+ Pictures That Prove You Just Can't Take Bad Photos Of Tzuyu - Koreaboo

Tzu Smile: tzuyu

4 Reasons Why Fans Think TWICE Tzuyu Is Actually A Very Rich Girl | Kpopmap

wallpaper for desktop, laptop | hh35-tzuyu-twice-smile-cute-kpop-chinese

All Twice Icons Tzuyu Desktop Wallpapers Don't Forget - Tzuyu Wallpaper Desktop Hd - 1280x720 Wallpaper - teahub.io

Tzuyu TWICE K-Pop Idol Singer Wallpaper #29175

1920x1080 HD Wallpaper of TWICE (Girl Group) K-Pop Girls Singer South Korean Celebrities Asian Tzuyu (Chou Tzu-yu) Taiwanese k-Pop. | Mode wanita, Wanita, Galeri

305559 TWICE, Feel Special, Tzuyu, 4K wallpaper | Mocah HD Wallpapers

Karantina Diri di Taiwan Usai, Tzuyu 'TWICE' Kembali ke Korea

Pin on Twice

610 Tzuyu Twice ideas in 2021 | jepun, fesyen wanita, wattpad

NEXT STORY

82 हजार के लहंगे में तारा सुतारिया लगी बेहद बोल्ड, जीता फैंस का दिल

82 हजार के लहंगे में तारा सुतारिया लगी बेहद बोल्ड, जीता फैंस का दिल

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बॉलीवुड की खूबसूरत और टैलेंटेड एक्ट्रेस तारा सुतारिया को उनकी एक्टिंग के साथ साथ उनके फैशन सेंस के बारे भी जाना जाता है। तारा हर तरह की ड्रेस में खूब जंचती हैं फिर चाहें वो वेस्टर्न हो या इंडियन। और वह अक्सर अपने लुक को शेयर करती रहती हैं। तारा ने हाल ही में अपने एक नए लुक को शेयर किया है, जिसमें उन्होंने एक ऑरेंज कलर का बहुत ही सुन्दर लहंगा पहना है। लहंगे के साथ तारा ने ब्रोकेड ब्लाउज पहना है और साथ में एलिगेंट दुपट्टा गले में डाला हुआ है। इस लहंगे में तारा बेहद खुबसूरत दिख रही है।

tara

तारा का यह लहंगा डिजाइनर ऋतू कुमार के लेबल का है। इस लहंगे के ब्लाउज में डीप नैकलाइन और मैट गोल्ड कढ़ाई का भी काम हुआ है। इसकी स्लीव्स छोटी और डिजाइनर हैं। इसके दुपट्टे में भी कढ़ाई का खूबसूरत काम किया गया है। 

Tara Sutaria Sizzles In Ethnic Wear As Cover Star On Leading Magazine, See Her Gorgeous Pics

तारा ने इस लहंगे के साथ गोल्ड के इयररिंग्स और चूड़ियां कैरी की हैं जो उनके लुक को और भी एलिगेंट लुक दे रही हैं। उन्होंने बालों का बन बनाया हुआ है जिसमें फूल लगे हुए हैं। इसके साथ तारा ने न्यूड मेकअप किया है और होठों पर न्यूड लिप्स्टिक लगाई हुई है और माथे पर एक छोटी सी बिंदी भी तारा ने लगाई है।

7 outfits that highlight Tara Sutaria's wedding guest style | Vogue India

इस ऑरेंज कलर के रॉयल लुक वाले लहंगे की कीमत 81,900 रुपये है और इसे डिजाइनर ऋतु कुमार की वेबसाइट से खरीदा जा सकता है।
Tara Sutaria Pink Color Festival Wear Lehenga Choli

तारा सुतारिया के अगर करियर की बार करें तो इन्होंने बॉलीवुड में अभी तक दो फिल्में की हैं। तारा की पहली फिल्म स्टूडेंट ऑफ द ईयर थी और दूसरी फिल्म थी मरजावां जिसमें तारा अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ नजर आई थीं।

Tara Sutaria in lehenga worth Rs 6 lakh is every bride-to-be's dream. See pics - Lifestyle News

 खबर है कि तारा जल्द ही अपनी नई फिल्म एक विलेन रिटर्न्स और तड़प में नजर आने वाली हैं। बता दें कि फिल्म एक विलेन रिटर्न्स में तारा के साथ जॉन अब्राहम और अर्जुन कपूर दिख सकते हैं। जबकि फिल्म तड़प में तारा के साथ सुनील शेट्टी के बेटे अहान शेट्टी दिख सकते हैं।